Fri. Feb 3rd, 2023
“राष्ट्रीय दुग्ध दिवस” का होगा आयोजन
शेयर करें

सन्दर्भ:

: पशुपालन और डेयरी विभाग ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के भाग के रूप में 26 नवंबर 2022 को बेंगलुरु में “राष्ट्रीय दुग्ध दिवस” मना रहा है।

“राष्ट्रीय दुग्ध दिवस” के बारें में:

: इसका आयोजन ‘भारत में श्वेत क्रांति के जनक’ डॉ. वर्गीज कुरियन की 101वीं जयंती के अवसर पर किया जा रहा है।
: समारोह के भाग के रूप में हेसरघट्टा, बेंगलुरु में पशु संगरोध प्रमाणन सेवाओं (एक्यूसीएस) का भी उद्घाटन किया जाएगा।
: बोवाइन आईवीएफ-(इन विट्रो-फर्टिलाइजेशन) गतिविधियों के लिए यह केंद्रीय हिमित वीर्य उत्पादन और प्रशिक्षण संस्थान है, जिसमे उन्नत प्रशिक्षण सुविधा की आधारशिला रखी जाएगा।
: एक्यूसीएस सही समय पर पशुधन उत्पादों और पशुधन आयात के लिए ऑनलाइन क्लीयरेंस पद्धति से युक्त होगा और स्थानीय अर्थव्यवस्था के लिए एक गेम चेंजर साबित होगा।
: इस समारोह के दौरान प्रतिष्ठित राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार, 2022 भी प्रदान किए जाएंगे।

राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार:

: पशुपालन एवं डेयरी विभाग ने राष्ट्रीय गोकुल मिशन के तहत, दुग्ध उत्पादक किसानों और इस क्षेत्र में काम करने वाले व्यक्तियों तथा दुग्ध उत्पादकों को बाजार तक आसान पहुंच प्रदान करने वाली डेयरी सहकारी समितियों को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से निम्नलिखित श्रेणियों में राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार प्रदान करता है।
: ये श्रेणियां है-
1- सर्वश्रेष्ठ कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन (एआईटी)
2- सर्वश्रेष्ठ डेयरी सहकारी समिति/दुग्ध उत्पादक कंपनी/डेयरी किसान उत्पादक संगठन
3- देशी गाय/भैंस की नस्लों को पालने-पोसने वाले सर्वश्रेष्ठ डेयरी किसान (पंजीकृत नस्लों की सूची संलग्न है)

: राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार में प्रत्येक श्रेणी में योग्यता का प्रमाण पत्र, एक स्मृति चिन्ह और नकद राशि प्रदान किया जाता है।
: पहली रैंक- रु. 5,00,000/, दूसरी रैंक- रु. 3,00,000/, तीसरी रैंक- रु. 2,00,000
: मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्रालय के तहत पशुपालन एवं डेयरी विभाग ने वर्ष 2022 के राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कारों के लिए राष्ट्रीय पुरस्कार पोर्टल अर्थात https://awards.gov.in भी लांच किया है।

: पशुधन क्षेत्र वर्तमान में भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है, जिसमें कृषि और उससे संबद्ध क्षेत्र जीवीए का एक तिहाई हिस्सा शामिल है और इनका सीएजीआर 08 प्रतिशत से ज्यादा है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *