“नवाचारों के माध्यम से इंडिया@2047 की कल्पना” विचार गोष्ठी

शेयर करें

INDIA@2047
इंडिया@2047 की कल्पना”

सन्दर्भ-चेन्नई के IITM रिसर्च पार्क में “नवाचारों के माध्यम से इंडिया@2047 की कल्पना” विषय पर तीन दिवसीय विचार-गोष्ठी का आयोजन किया जाएगा।
उद्देश्य-“मिनिमम गवर्नमेंट,मैक्सिमम गवर्नेंस” के साथ नई पीढ़ी के सुधारों और नवाचारों को आगे बढ़ाने वाले डिजिटल प्रौद्योगिकी का उपयोग करते हुए सरकार और आम नागरिकों को एक साथ लाने का प्रयास करना है।
प्रमुख तथ्य-इसका आयोजन लोक शिकायत विभाग (DARPG) द्वारा 07 मार्च से 09 मार्च, 2022 तक किया जाएगा।
:इसमें भारत में ई-गवर्नेंस पहल पर डीएआर एंड पीजी द्वारा निर्मित एक फिल्म को दिखाया जाएगा।
:इसके द्वारा सरकारी प्रक्रिया की री-इंजीनियरिंग,ई-सेवाओं तक सार्वभौमिक पहुंच,डिजिटल पहलों को जिला स्तर पर उत्कृष्ट बनाना,उभरती प्रौद्योगिकियों को उत्कृष्टता के साथ अपनाना और आईसीटी प्रबंधन का उपयोग करने के महत्त्व पर जोर दिया जाएगा।
:”विजन इंडिया@2047″ तैयार किया जा रहा है ताकि भारत सरकार द्वारा टाइमलाइन और माइलस्टोन के साथ इस दशक की दीर्घकालिक लक्ष्यों और संबंधित अल्पकालिक परिभाषित परिणामों की पहचान किया जा सके।
:लगभग 200 प्रतिभागियों का चयन केंद्रीय और प्रकोष्ठ टीमों के लिए किया गया है,जिसमें एक आईएएस अधिकारी, एक युवा संकाय सदस्य और एक युवा उद्यमी शामिल होंगे जो कि विचार-विमर्श के लिए एक साथ बैठेंगे,इस तरह के 10 प्रकोष्ठ बनाए जाएंगे।
:4-सदस्यीय केंद्रीय टीम परिचर्चा के दौरान और उसके बाद बीस वर्षों के लिए बुनियादी थिंक टैंक होगा जो यह पता लगाएगा कि भारत देश को किस प्रकार से आगे बढ़ाया जाए।
:प्रत्येक प्रकोष्ठ को10 अलग-अलग विषयों वाली समस्याएं सौंपी जाएगी,जिसका सामना भारत कर रहा है और जहां पर अगले 25 वर्षों में बहुत विकास करने की आवश्यकता होगी।
:इस प्रकोष्ठ का समग्र विषय “डिजिटल गवर्नेंस में नवाचार” होगा।


शेयर करें

Leave a Comment