Sat. Apr 20th, 2024
दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे का पहला खंडदिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे का पहला खंड Photo@Twitter
शेयर करें

सन्दर्भ:

: प्रधानमंत्री ने 12 फरवरी 2023 को दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे के 246 किलोमीटर लंबे दिल्ली-दौसा-लालसोट खंड का उद्घाटन किया।

दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे से जुड़े प्रमुख तथ्य:

: दिल्ली-दौसा-लालसोट खंड राष्ट्रीय राजधानी से जयपुर तक यात्रा के समय को पांच घंटे से घटाकर लगभग साढ़े तीन घंटे कर देगा।
: एक्सप्रेसवे के आसपास ‘ग्रामीण हाट’ विकसित किए जा रहे हैं जहां स्थानीय कारीगर अपना माल बेच सकते हैं।
: इस विशाल एक्सप्रेसवे का पहला पूरा किया गया हिस्सा सरकार की स्वर्णिम चतुर्भुज परियोजना का हिस्सा है, जिसका उद्देश्य देश की लंबाई और चौड़ाई को फैलाना है।
: दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेसवे 1,386 किमी पर भारत में सबसे लंबा होना तय है।
: सड़क मार्ग का उद्देश्य दिल्ली और मुंबई के बीच की दूरी को 12% कम करके 1,424 किमी से 1,242 किमी करना है।
: यात्रा का समय 50% कम होने की उम्मीद है, जिससे 12 घंटे में यात्रा संभव हो सकेगी
: कोटा, इंदौर, जयपुर, भोपाल, वडोदरा और सूरत जैसे प्रमुख शहरों को जोड़ते हुए एक्सप्रेसवे छह राज्यों – दिल्ली, हरियाणा, राजस्थान, मध्य प्रदेश, गुजरात और महाराष्ट्र से होकर गुजरेगा।
: इस परियोजना में 93 पीएम गति शक्ति आर्थिक नोड्स, 13 बंदरगाहों, आठ प्रमुख हवाई अड्डों और आठ बहु-मॉडल रसद पार्क (MMLP) के रास्ते होंगे।
: जेवर और नवी मुंबई में आगामी ग्रीनफील्ड हवाईअड्डे भी जुड़े होंगे


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *