डेली करेंट अफेयर्स 29 अक्टूबर 2021

शेयर करें

1-भारत ने किया अग्नि -5 का सफल परिक्षण किया

चर्चा क्यों है-भारत ने सतह से सतह पर मार करने वाली बैलेस्टिक मिसाइल अग्नि -5 का सफल परिक्षण किया।
प्रमुख तथ्य-1:इस सामरिक मिसाइल की मारक क्षमता 5000 किमी तक है।
2:इसमें तीन स्तरीय ठोस ईंधन वाले इंजन का उपयोग किया गया है।
3:इस मिसाइल का परिक्षण ओडिशा के एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप से किया गया है अब्दुल कलम द्वीप भारत के पूर्वी तट से लगभग 10 किमी दूर बंगाल की खाड़ी में स्थित है।यह देश की सुरक्षा जरूरतों को पूरा करने और सामरिक क्षेत्र में भारत को आत्मनिर्भर बनाने के लिए जरुरी है।
4:भारत ने अग्नि-5 मिसाइल का सफल परिक्षण अपनी घोषित विश्वसनीय न्यूनतम प्रशरोधक क्षमता नीति के अनुरूप ही किया है जो नो फर्स्ट यूज प्रतिबद्धता को प्रदर्शित करता है।
5:इस मिसाइल का परिक्षण उस समय किया जा रहा है जब भारत की पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ गतिरोध बना हुआ है इस मिसाइल को लेकर चीन पूर्व में अपनी चिंता जाता है।
अग्नि मिसाइल- यह सतह से साथ से सतह पर मर करने वाली एक इंटरकांटिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल है जिसका विकास और डिज़ाइन DRDO द्वारा किया जाता है
इंटरकांटिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल(ICBM)/अंतर महाद्वीपीय बैलेस्टिक मिसाइल- सतह से सतह पर मर करने वाली प्रक्षेपास्त्र होती है जिसकी मारक क्षमता एक द्वीप से दूसरे द्वीप तक होतुी है,अभी ये मिसाइल सिर्फ अमेरिका,चीन,रूस,फ्रांस,ब्रिटैन,उत्तर कोरिआ,इजराइल और अब भारत भी 8वे देश के रूप में इस क्लब में शामिल हो गया है।
विशेषताएं-1:यह भारत की एक मात्र और पहली इंटरकांटिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल है रेंज 5000 किमी तथा गति 24 मैक है,1 मैक = 1234.8 किमी/ घण्टा (आवाज़ की गति)
2:साथ कई लक्ष्यों को भेद सकती है यह 1500 किग्रा का वारहेड ले जाने में सक्षम है।
3:यह रिंग लेज़र गायरोस्कोप जड़त्वीय नेविगेशन प्रणाली से लैस है जो उपग्रह के मार्दर्शन के साथ काम करता है।
4;अग्नि -5 के अबतक आठ परीक्षण हो चुके है,इसका पहला परीक्षण 19 अप्रैल 2012 को,दूसरा 15 सितम्बर 2013,तीसरा 31 जनवरी 2015,चौथा 26 दिसंबर 2016,पांचवा 18 जनवरी 2018,छठा 3 जून 2018,सातवां 10 दिसंबर 2018

2-केवी कामत एनएबीएफआईडी (NaBFID)के नए अध्यक्ष बने

प्रमुख तथ्य -1:सरकार ने अनुभवी बैंकर के वी कामत को नवगठित नेशनल बैंक फॉर फाइनेंस इन इन्फ्राट्रक्चर एंड डेवलपमेंट यानी NaBFID के अध्यक्ष बनाये गए है।
2:20000 करोड से बना NaBFID एक विकास वित्त संस्थान यानी डीएफआई के रूप में कार्य करेगा।
3:इसी वर्ष मार्च में संसद में इसको लेकर एक विधेयक पारित किया था।
4:यह देश में दीर्घकालिक बुनियादी ढांचा परियोजनाओं के वित्तीयन में मदद करेगा प्रारम्भ में डीएफआई का पूर्ण स्वामित्व सरकार के पास होगा लेकिन बाद में इसकी हिस्सेदारी को घटाकर 26% कर दी जाएगी।
5:इसका मुख्यालय मुंबई में होगा और विभिन्न शहरों में इसके क्षेत्रीय कार्यालय भी होंगे।
6:के वी कामथ–>इससे पहले ये ब्रिक्स समूह द्वारा स्थापित न्यू डेवलपमेंट बैंक जानी एनडीबी के पहले अध्यक्ष भी रह चुके हैं।
>इसके अतिरिक्त आईसीआईसीआई बैंक के प्रबंध निदेशक भी रहे थे।
>एसीआई विकास बैंक(ADB) के कार्यकारी अध्यक्ष भी रह चुके हैं, ADB एक क्षेत्रीय विकास बैंक है जिसकी स्थापना 19 दिसंबर 1966 को हुई थी परन्तु बैंक का पूर्ण रूप से काम 1 जनवरी 1967 से आरम्भ हुआ , मुख्यालय मंडलुयोंग,मनीला (फिलीपींस) में है जिसमे कुल 68 सदस्य है,वैसे इसकी अध्यक्षता जपान ही करता है वर्तमान में इसके अध्यक्ष जापान के ही मासत्सुगु असाकावा है।
>इस बैंक का उद्देश्य एशिया प्रश्नात क्षेत्र में आर्थिक और सामाजिक विकास को तीव्र और मजबूत करना है।
>के वी कामथ सॉफ्टवेर कंपनी इंफोसिस के गैर कार्यकारी अध्यक्ष भी रह चुके है।

3-सरकार अगले महीने से शुरु करेगी हर घर दस्तक अभियान

प्रमुख तथ्य-1:स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा ख़राब प्रदर्शन करने वाले जिलों के हर घर में जाकर कोविड-19 के टीकाकरण के लिए इस अभियान को शुरू करेगा।
2:इसका उद्देश्य इस महामारी से बचाव के लिए लोगो को पूर्ण टीकाकरण के प्रेरित करना।
3:स्वास्थ्य कर्मी घर घर जाकर लोगो को दूसरा दोसे लगाएंगे साथ ही उन लोगो भी टीकाकरण किया जायेगा जिन्होंने अभी तक टीकाकरण नहीं करवाया है।
4:इस अभियान के तहत देश के उन 48 जिलों को विशेष रूप से ध्यान दिया जायेगा जहाँ अभी तक वैक्सिनेशन 50% भी टीकाकरण नहीं हुआ है।
5:अभी देश की 77% जनसँख्या को वैक्सीन की पहली खुराक लग चुकी है,जबकि 32 % जनसँख्या को दोनों डोज़ दिए जा चुके है,अभी 10 करोड़ लोग ऐसे है जिनको दूसरी डोज़ लगनी है।
6:2.92 करोड़ लोगो का दूसरा डोज़ अभी भी 6 हप्ते से बाकि है।
7:कोवैक्सीन के मामले में दोनों दोसे के बीच 4 हप्ते का तो कोविशील्ड के मामले में 12 हप्ते का समय जरुरी है
8:हिमाचल,गोवा लक्षद्वीप,सिक्किम,अंडमान और निकोबार,चण्डीगढ़,लद्दाख,मिजोरम,अरुणाचल प्रदेश,दमन एवं दीव,जम्मू और कश्मीर में 50% से ज्यादे लोगो को वैक्सीन दिया जा चूका है।

4-जॉर्जिया में शुरू होगा कन्नड़ भाषा और राज्योत्सव दिवस
प्रमुख दिवस-1:जॉर्जिया के गवर्नर ब्रायन कैंप ने इस बारे में उद्घोषणा कि,की 1 नवंबर को कन्नड़ भाषा और राज्योत्सव दिवस के रूप में मनाया जायेगा और कहा कि इस तरह की घोषणा करने वाला जॉर्जिया पहला राज्य बन गया है।
2:अमेरिका के जॉर्जिया में सबसे अधिक भारतीय प्रवासी रहते है।
3:गवर्नर ने बताया की कन्नड़ भाषा सबसे लंबे समय तक जीवित रहने वाली शास्त्रीय भाषाओं में से एक है,इसके अलावा इसमें समृद्ध साहित्य और व्युत्पत्ति से जुडी संरचना भी है जो 450 ईसा पूर्व की अपनी भाषा और शिलालेखों के लिए अद्वितीय मानी जाती है।
4:जॉर्जिया शिक्षा विभाग द्वारा कन्नड़ भाषा को विरासत भाषाओं में बाईलिटरेसी सील आउटरीच से भी सम्मानित किया गया है।
5:द सिल ऑफ बाईलिटरेसी एक स्कूल जिले या राज्य द्वारा ऊन छात्रों को मान्यता देता है,जिन्होंने हाई स्कूल स्नातक मे दो या दो से अधिक भाषाओं में अध्ययन किया है और प्रवीणता प्राप्त की है।
6:कन्नड़ समुदाय ने राज्य में चिकित्सा इंजीनियरिंग,अनुसंधान,कानून,भाषा,संस्कृति,और परंपरा के साथ-साथ जॉर्जियो की अर्थव्यवस्था को समृद्ध करने जैसे विभिन्न क्षेत्रों में योगदान दिया है।


शेयर करें

Leave a Comment