“टर्न योर बॉडी टू द सन” ने जीता स्वर्ण शंख पुरस्कार

शेयर करें

MIFF-2022 ME Turn Your Body to the Sun NE JEETA GOLDEN SHANKH PURASKAR
टर्न योर बॉडी टू द सन” ने जीता स्वर्ण शंख पुरस्कार
Photo:PIB

सन्दर्भ-मुंबई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह (MIFF) 2022 में डच फिल्मटर्न योर बॉडी टू द सन’ ने जीता सर्वश्रेष्ठ वृत्तचित्र के लिए स्वर्ण शंख पुरस्कार
प्रमुख तथ्य-इस फिल्म में एक सोवियत युद्ध कैदी की अविश्वसनीय कहानी को दिखाया गया है।
:पुरस्कार में एक स्वर्ण शंख, एक प्रमाण पत्र और 10 लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया गया।
:अलियोना वैन डेर होर्स्ट द्वारा निर्देशित, ‘टर्न योर बॉडी टू द सन’ तातार वंश के एक सोवियत सैनिक की अविश्वसनीय जीवन कहानी को प्रकाश में लाती है।
:जूरी ने कहा कि अभिलेखीय सामग्री का अभिनव उपयोग इस वृत्तचित्र में बहुत संवेदनशील है और उसका सिनेमाई ट्रीटमेंट भी सर्वोत्कृष्ट है।
:भारत के अलावा ऑस्ट्रेलिया, कनाडा, जर्मनी, आयरलैंड, इटली, नीदरलैंड, पनामा, दक्षिण कोरिया और यूके की 18 वृत्तचित्र फिल्में मुंबई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह 2022 के अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता खंड में थीं।
:सर्वश्रेष्ठ शॉर्ट-फिक्शन: ‘साक्षात्कारम’ (मलयालम) और ‘ब्रदर टोल’ दोनों फिल्मों ने रजत शंख पुरस्कार साझा किया।
:सर्वश्रेष्ठ एनिमेशन फिल्म: ‘प्रिंस इन ए पेस्ट्री शॉप’ (पोलैंड) ने रजत शंख जीता।
:क्लोज्ड टू द लाइट’ इतालवी फिल्म निर्माता निकोला पिओवेसन द्वारा निर्देशित और निर्मित फिल्म है जिसने इस समारोह में ‘प्रमोद पति – मोस्ट इनोवेटिव / एक्सपेरिमेंटल फिल्म’ का पुरस्कार जीता।
:एक ट्रॉफी और प्रमाण पत्र के साथ 1,00,000 रुपये नकद पुरस्कार मिलेगा।
:मधुलिका जलाली की ‘घर का पता’ और अभुयदया खेतान के फिल्म डिवीजन द्वारा निर्मित ‘हू सेज़ द लेप्चा आर वैनिशिंग?’ ने अंतर्राष्ट्रीय जूरी का विशेष उल्लेख पाया।
:मधुलिका जलाली की ‘घर का पता’ और अभुयदया खेतान के फिल्म डिवीजन द्वारा निर्मित ‘हू सेज़ द लेप्चा आर वैनिशिंग?’ ने अंतर्राष्ट्रीय जूरी का विशेष उल्लेख पाया।
:ओजस्वी शर्मा द्वारा निर्देशित ‘एडमिटेड’ ने राष्ट्रीय प्रतियोगिता खंड में सर्वश्रेष्ठ वृत्तचित्र फिल्म (60 मिनट से अधिक) के लिए रजत शंख पुरस्कार जीता।
:पंजाब विश्वविद्यालय के पहले ट्रांसजेंडर छात्र धनंजय चौहान के विवादास्पद जीवन पर एक वृत्तचित्र है।
:असमिया निर्देशक एमी बरुआ द्वारा निर्देशित और माला बरुआ द्वारा निर्मित ‘स्क्रीमिंग बटरफ्लाइज़’ ने राष्ट्रीय प्रतियोगिता खंड में सर्वश्रेष्ठ वृत्तचित्र फिल्म (60 मिनट से कम) के लिए रजत शंख का पुरस्कार जीता।
:सृष्टिपाल सिंह द्वारा निर्देशित ‘गेरू पात्र’ ने राष्ट्रीय प्रतियोगिता खंड में ‘सर्वश्रेष्ठ लघु कथा फिल्म’ (45 मिनट तक) के लिए रजत शंख जीता।
:मुंबई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह 2022 में सर्वश्रेष्ठ नवोदित निर्देशक के लिए ‘दादासाहेब फाल्के चित्रनगरी पुरस्कार’ बिमल पोद्दार को उनकी फिल्म ‘राधा’ के लिए दिया गया है।
:मुंबई अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह 2022 में सर्वश्रेष्ठ छात्र फिल्म के लिए आईडीपीए पुरस्कार ऋषि भौमिक द्वारा निर्देशित बंगाली फिल्म ‘मेघा’ को दिया गया है।


शेयर करें

Leave a Comment