Sat. Apr 20th, 2024
INS त्रिशूलINS त्रिशूल Photo@PIB
शेयर करें

सन्दर्भ:

: INS त्रिशूल ने अपने समुद्री पड़ोसियों के साथ भारत के सौहार्दपूर्ण संबंधों को दर्शाते हुए परिचालन तैनाती के हिस्से के रूप में मेडागास्कर के टोमासिना में एक बंदरगाह कॉल किया

भारतीय नौसेना के जहाजों का विदेशी दौरा क्यों:

: भारतीय नौसेना के ‘मैत्री के पुल’ के निर्माण और अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को मजबूत करने के मिशन के हिस्से के रूप में भारतीय नौसेना के जहाजों को नियमित रूप से विदेशों में तैनात किया जाता है।

INS त्रिशूल के दौरे के बारें में:

: यह दौरा 19 से 22 जून 2023 तक चला
: इस दौरे में ‘ओशन रिंग ऑफ योग’ थीम के हिस्से के रूप में 9वां अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया
: इस कार्यक्रम में डॉक्टरों, नर्सों, भारतीय प्रवासियों के सदस्यों और स्थानीय नागरिकों ने भाग लिया।
: मेडागास्कर के अंत्सिरानाना क्षेत्र के गवर्नर श्री रफ़ीडिसन रिचर्ड थिओडोर इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि थे।
: भारतीय और मालागासी सशस्त्र बलों के कार्मिकों ने व्यापक स्तर पर व्यवसायिक बातचीत की।
: इस यात्रा का उद्देश्य दोनों नौसेनाओं के बीच सहयोग और आपसी समझ को बढ़ाना था।
: विश्व संगीत दिवस के अवसर पर टोमासिना के ‘द मेयर हॉल’ में एक बैंड प्रदर्शन का आयोजन किया गया।
: इसमें IN बैंड और बेट्सिमिसारका लोकगीत समूह ‘SAHY’ ने गणमान्य व्यक्तियों और स्थानीय लोगों की उपस्थिति में प्रदर्शन किया और मनमोहक संगीत प्रस्तुतियां दीं
: जहाज 21 जून 2023 को मेडागास्कर के टोमासिना में पर्यटकों के लिए खुला था और लगभग 400 पर्यटक आए।
: तलवार श्रेणी के युद्धपोतों में से दूसरा INS त्रिशूल 25 जून 2003 को भारतीय नौसेना में शामिल किया गया था।
: यह जहाज अत्याधुनिक हथियार और सेंसर पैकेज से सुसज्जित है तथा एक मल्टी-रोल हेलीकॉप्टर भी इसमें शामिल है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *