Greater Male Connectivity Project लॉन्च किए गए

शेयर करें

Greater Male Connectivity Project लॉन्च किए गए
Greater Male Connectivity Project लॉन्च किए गए

सन्दर्भ:

:भारतीय प्रधान मंत्री और मालदीव के राष्ट्रपति ने मालदीव में Greater Male Connectivity Project का शुभारंभ किया और साइबर सुरक्षा, आपदा प्रबंधन और पुलिस बुनियादी ढांचे के विकास जैसे क्षेत्रों में भी समझौते किए।

Greater Male Connectivity Project के बारें में:

:Greater Male Connectivity Project का निर्माण भारत के 100 मिलियन डॉलर के अनुदान और 400 मिलियन डॉलर की लाइन ऑफ क्रेडिट के तहत किया जाएगा।
:भारत ने मालदीव में विकास परियोजनाओं के लिए 100 मिलियन डॉलर की ऋण सहायता भी प्रदान की।
:दोनों देशों ने साइबर सुरक्षा,आपदा प्रबंधन और पुलिस बुनियादी ढांचे के विकास जैसे क्षेत्रों पर छह दस्तावेजों का आदान-प्रदान किया।
:मालदीव हिंद महासागर क्षेत्र में भारत का प्रमुख पड़ोसी देश है और भारत की नेबरहुड फर्स्ट पॉलिसी में एक विशेष स्थान रखता है।
:हाल के वर्षों में, साझेदारी ने सहयोग के सभी क्षेत्रों में तेजी से विकास देखा है।
:भारत के लिए मालदीव हमेशा से एक करीबी और महत्वपूर्ण समुद्री पड़ोसी रहा है।
:महामारी से संबंधित व्यवधानों के बावजूद दोनों देशों के बीच बहुआयामी संबंध मजबूत हुए हैं।
:भारत की “पड़ोसी पहले” नीति और मालदीव की “भारत पहले” नीति साझा चिंताओं से निपटने और आपसी हितों को आगे बढ़ाने के लिए मिलकर काम करती है।
:इसमें एक 6.74 किमी लंबा पुल और माले और आसपास के द्वीपों विलिंगली, गुल्हिफाल्हू और थिलाफुशी के बीच सेतु लिंक शामिल होगा,यह अक्षय ऊर्जा का उपयोग करेगा।
:यह न केवल मालदीव में भारत की सबसे बड़ी परियोजना है, बल्कि समग्र रूप से मालदीव में सबसे बड़ी बुनियादी ढांचा परियोजना है।


शेयर करें

Leave a Comment