5 सितम्बर: आज है शिक्षक दिवस

शेयर करें

शिक्षक दिवस
शिक्षक दिवस

सन्दर्भ:

:देश में हर वर्ष 5 सितम्बर को मनाया जाता है शिक्षक दिवस

क्यों मनाया जाता है:

:महान शिक्षक, दार्शनिक और पूर्व राष्ट्रपति डॉ. एस राधाकृष्णन की जयंती के उपलक्ष्य में मनाया जाता है।

शिक्षक दिवस के बारें में:

: शिक्षक दिवस वर्ष 1962 से मनाया जाता है।
:इस दिन विद्यार्थी अपने-अपने तरीके से शिक्षकों के प्रति अपने आदर और सम्मान प्रकट करते हैं।
:इसी के उपलक्ष्य में राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार देश के बेहतरीन शिक्षकों के अद्वितीय योगदान को सेलिब्रेट करने और उनका सम्मान करने के लिए दिया जाता है, जिन्होंने अपनी प्रतिबद्धता और कड़ी मेहनत से न केवल स्कूली शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार किया है बल्कि अपने छात्रों के जीवन को भी समृद्ध किया है।
:इस वर्ष इस पुरस्कार के लिए देश भर से 45 शिक्षकों का चयन किया गया है।
:विश्व शिक्षक दिवस 5 अक्तूबर को मनाया जाता है।
:यूनेस्को ने वर्ष 1994 में शिक्षकों के कार्य की सराहना के लिये 5 अक्तूबर को विश्व शिक्षक दिवस के रूप में मनाने को लेकर मान्यता दी थी।

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के बारें में:

:उनका जन्म तमिलनाडु के तिरुट्टनी में 5 सितंबर,1888 को हुआ था।
:वे एक शिक्षक, दार्शनिक, लेखक और राजनीतिज्ञ थे।
:1917 में ‘द फिलॉसफी ऑफ रवींद्रनाथ टैगोर’ पुस्तक लिखी।
:वह भारत के पहले उपराष्ट्रपति (1952-1962) और वर्ष 1962 से 1967 तक भारत के दूसरे राष्ट्रपति थे।
:उन्हें 1931 में नाइटहुड से सम्मानित किया गया था।
:1931 से 1936 तक आंध्र विश्वविद्यालय के कुलपति थे।
:1939 में बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के कुलपति के रूप में भी कार्य किया।
: वर्ष 1954 में उन्हें भारत रत्न (भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार) से सम्मानित किया गया था।
:वर्ष 1963 में उन्हें ब्रिटिश रॉयल ऑर्डर ऑफ मेरिट की मानद सदस्यता भी मिली।


शेयर करें

Leave a Comment