Fri. Jul 12th, 2024
स्वच्छोत्सवस्वच्छोत्सव
शेयर करें

सन्दर्भ:

: MoHUA ने महिलाओं के नेतृत्व वाले तीन सप्ताह तक चलने वाले स्वच्छता अभियान स्वच्छोत्सव (Swachhotsav) का किया शुभारंभ।

स्वच्छोत्सव (Swachhotsav) के बारें में:

: महिलाओं के नेतृत्व वाले इस उत्सव का आयोजन तीन सप्ताह तक किया जाएगा।
: इस उत्सव में स्वच्छ भारत मिशन शहरी 2.0 के तहत स्वच्छता में महिलाओं की भागीदारी से आगे बढ़कर महिलाओं के नेतृत्व वाली स्वच्छता को पहचाना और मनाया जा रहा है।
: कचरा मुक्त शहरों (GFC) के मिशन को सफल बनाने में अपना नेतृत्व प्रदान करने वाली सभी क्षेत्रों की महिलाओं को समर्पित इस उत्सव को मनाने हेतु शहरों में कार्यक्रमों और गतिविधियों की एक श्रृंखला आयोजित की जाएगी।
: साल 2014 में जब स्वच्छ भारत मिशन की शुरुआती हुई तब से आठ वर्षों में स्वच्छता स्पष्ट रूप से जन आंदोलन के एक प्रमुख स्तंभ के रूप में विकसित हो रही हैं।
: स्वच्छोत्सव के लॉन्च के दौरान ही विमन आइकॉन्स लीडिंग सैनिटेशन एंड वेस्ट मैनेजमेंट (WINS) चैलेंज-2023 की घोषणा भी की गई।
: WINS चैलेंज-2023 शहरों में स्वच्छता हासिल करने की दिशा में काम करने वाली महिला उद्यमियों या महिलाओं के नेतृत्व वाले उद्यमों को मान्यता देगा।
: WINS अवॉर्ड्स-2023 के लिए नामांकन 8 मार्च से शुरू होंगे।
: 10 मार्च से स्वच्छता यात्रा की शुरुआत होगी, जो 30 मार्च को पूरी होगी।
: इसे यूनाइटेड नेशन्स जनरल असेंबली द्वारा इंटरनैशनल डे ऑफ जीरो वेस्ट के रूप में घोषित किया गया है।
: 34 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के प्रतिनिधि इस यात्रा के हिस्से के रूप में 24 राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों का भ्रमण करेंगे।
: यह एकजुट होकर सीखने की एक तरह की अंतर-राज्यीय पहल है, जो एरिया लेवल फेडरेशन (ALF) या स्वयं सहायता समूहों (SHG) के सदस्यों को चयनित शहरों की ‘स्वच्छता दूत’ के रूप में यात्रा करने के लिए प्रोत्साहित करेगा।
: 30 मार्च को स्वच्छ मशाल मार्च ‘महिलाओं के नेतृत्व वाले स्वच्छोत्सव’ के लिए बेहतर माहौल बनाएगा।
: वे स्वच्छता से जुड़ी नई पहल शुरू कर रही हैं और दूसरों को इसमें शामिल होने के लिए प्रोत्साहित करते हुए इस अभियान को बल भी प्रदान कर रहे हैं।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *