Mon. Dec 5th, 2022
शेयर करें

सांकेतिक भाषा दिवस-2022
सांकेतिक भाषा दिवस-2022
Photo@Twitter

सन्दर्भ:

: भारतीय सांकेतिक भाषा अनुसंधान और प्रशिक्षण केंद्र (ISLRTC), ने नई दिल्ली में सांकेतिक भाषा दिवस-2022 समारोह का आयोजन किया।

इसका उद्देश्य है:

: आम जनता को भारतीय सांकेतिक भाषाओं के महत्व के बारे में बताना और सुनने में अक्षम लोगों के लिए सूचना और संचार की सुलभता के बारे में जागरूकता उत्पन्न करना

सांकेतिक भाषा दिवस-2022 के बारें में:

: इसका आयोजन 23 सितंबर, 2022 को आजादी का अमृत महोत्सव के भाग के रूप में किया गया।
: ISLRTC,भारत सरकार के सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय के दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के अंतर्गत आने वाला एक स्वायत्त निकाय है।
: सांकेतिक भाषा दिवस-2022 समारोह का आयोजन पूरे देश में 3200 स्थानों पर किया गया।
: संयुक्त राष्ट्र ने जब 23 सितंबर को अंतर्राष्ट्रीय सांकेतिक भाषा दिवस घोषित किया है, तब से आईएसएलआरटीसी प्रत्येक वर्ष 23 सितंबर को इस समारोह का आयोजन करता है।
: समावेशी समाज का निर्माण करने के लिए दिव्यांगजनों का सशक्तिकरण करने और उन्हें मुख्यधारा में लाने की दिशा में निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं।
: मूक-बधिरों की शिक्षा में सांकेतिक भाषा का बहुत ही महत्वपूर्ण स्थान है क्योंकि मूक-बधिरों के लिए सांकेतिक भाषा में सामान्य शिक्षा और उच्च शिक्षा प्राप्त करना बहुत आसान होता है।
: सरकार से आगामी जनगणना में भारतीय सांकेतिक भाषा (आईएसएल) को शामिल करने का अनुरोध किया गया।
: साइन लर्न’ नामक एक ISL शब्दकोश ऐप लॉन्च किया गया, जो एंड्रॉइड और आईओएस दोनों संस्करणों में उपलब्ध है।
: ISLRTC और NCERT कक्षा I से XII की पाठ्य पुस्तकों को सुनने में अक्षम बच्चों हेतु सरल बनाने के लिए भारतीय सांकेतिक भाषा (डिजिटल प्रारूप) में बदलाव करने हेतु 6 अक्टूबर, 2020 को राष्ट्रीय शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए थे।
: इस वर्ष NCERT की छठी कक्षा की पाठ्यपुस्तकों की आईएसएल में ई-सामग्री शुरू की गई
: आजादी का अमृत महोत्सव के अंतर्गत केंद्र ने नेशनल बुक ट्रस्ट की वीरगाथा श्रृंखला की चुनिंदा पुस्तकों का आईएसएल संस्करण जारी किया।
: ISLRTCऔर NCERT के संयुक्त प्रयास से विकसित किए गए भारतीय सांकेतिक भाषा के कुल 500 शैक्षणिक शब्दों को जारी किया गया।
: ये 500 अकादमिक शब्द माध्यमिक स्तर पर उपयोग किए जाने वाले शब्द हैं, जो प्रायः इतिहास, विज्ञान, राजनीति विज्ञान, गणित में उपयोग किए जाते हैं।
: ये सभी 500 अकादमिक शब्द माध्यमिक स्तर पर उपयोग किए जाने वाले शब्द हैं, जो प्रायः इतिहास, विज्ञान, राजनीति विज्ञान, गणित में उपयोग किए जाते हैं।
: 5वीं भारतीय सांकेतिक भाषा प्रतियोगिता, 2022 का आयोजन केंद्र द्वारा किया गया।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published.