Fri. Feb 3rd, 2023
शेयर करें

कालाज़ार
कालाज़ार

सन्दर्भ:

:भारत सरकार (GOI) ने वर्ष 2023 तक कालाज़ार, जिसे विसरल लीशमैनियासिस (VL) के रूप में भी जाना जाता है, को पूरी तरह से समाप्त करने का लक्ष्य रखा है।

कालाज़ार प्रमुख तथ्य:

:कालाजार एक उपेक्षित उष्ण कटिबंधीय रोग (NTD) है जो फ्लेबोटोमाइन सैंडफ्लाइज के काटने से फैलता है और मलेरिया के बाद सबसे घातक परजीवी हत्यारा है।
:स्वास्थ्य और परिवार कल्याण राज्य मंत्रालय (राज्य मंत्री) द्वारा लोकसभा में लिखित उत्तर डॉ भारती प्रवीण पवार ने उल्लेख किया कि 633 काला-आजार स्थानिक ब्लॉकों में से 625 ब्लॉक ने 2021 में उन्मूलन लक्ष्य हासिल कर लिया है।
:विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने उपेक्षित उष्णकटिबंधीय रोगों के रोड मैप में 2030 तक कालाजार को खत्म करने का लक्ष्य रखा है।
:भारत अब अगले वर्ष तक कालाजार को नियंत्रित करने में आगे है।
:ज्ञात हो कि भारत सरकार ने 1990-1991 में स्थानिक राज्यों में एक केंद्र प्रायोजित कालाजार नियंत्रण कार्यक्रम शुरू किया था।
:राष्ट्रीय स्वास्थ्य नीति-2002 ने वर्ष 2010 तक भारत में कालाजार उन्मूलन का लक्ष्य निर्धारित किया जिसे संशोधित कर 2015 कर दिया गया।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *