Mon. May 29th, 2023
अजेय वॉरियर–2023
शेयर करें

सन्दर्भ:

: भारत और यूनाइटेड किंगडम (इंग्लैंड) के बीच संयुक्त सैन्य युद्धाभ्यास ‘अजेय वॉरियर–2023’ का सैलिसबरी मैदान, यूनाइटेड किंगडम में आयोजन किया जा रहा है।

इस युद्धाभ्यास का उद्देश्य है:

: सकारात्मक सैन्य संबंधों का निर्माण करना, एक-दूसरे की सर्वश्रेष्ठ प्रथाओं को अपनाना और संयुक्त राष्ट्र के शासनादेश के तहत शहरी और अर्ध-शहरी माहौल में कंपनी-स्तरीय उप-पारंपरिक संचालनों को करते हुए एक साथ काम करने की क्षमता को बढ़ावा देना।

‘अजेय वॉरियर–2023’ के बारें में:

: इस युद्धाभ्यास के 7वें संस्करण का आयोजन 27 अप्रैल से 11 मई 2023 तक किया जाएगा
: युद्धाभ्यास अजय वॉरियर’ भारत का यूनाइटेड किंगडम के साथ द्विवार्षिक प्रशिक्षण कार्यक्रम है, जो कि यूनाइटेड किंगडम और भारत में वैकल्पिक रूप से आयोजित किया जाता है।
: इस अभ्यास का पिछला संस्करण अक्टूबर 2021 में उत्तराखंड के चौबटिया में आयोजित किया गया था।
: इसके अन्य उद्देश्य है, दोनों सेनाओं के बीच अंतर-संचालन, भाईचारा, और मैत्रीपूर्ण संबंधों को विकसित करना भी है।
: यूनाइटेड किंगडम से सेकेंड रॉयल गोरखा राइफल्स के सैनिक और भारतीय सेना की बिहार रेजिमेंट के सैनिक इस सैन्य अभ्यास में भाग ले रहे हैं।
: भारतीय सेना की टुकड़ी भारतीय वायु सेना के सी-17 विमान से 26 अप्रैल 2023 को स्वदेशी हथियारों और उपकरणों के साथ ब्रीज़ नॉर्टन पहुंची थी।
: इस अभ्यास के दायरे में बटालियन स्तर पर कमांड पोस्ट अभ्यास (CPX) और कंपनी स्तर पर क्षेत्र प्रशिक्षण अभ्यास (FTX) करना शामिल है।
: युद्धाभ्यास “अजेय वॉरियर-23” भारतीय सेना और ब्रिटिश सेना के बीच रक्षा सहयोग में एक और महत्वपूर्ण उपलब्धि है, जो दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों को और अधिक बढ़ावा देगा।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *