Mon. Jun 24th, 2024
वैश्विक आतंकवाद सूचकांकवैश्विक आतंकवाद सूचकांक Photo@IEP
शेयर करें

सन्दर्भ:

: दसवीं वैश्विक आतंकवाद सूचकांक (GTI – Global Terrorism Index) रिपोर्ट को इंस्टीट्यूट फॉर इकोनॉमिक्स एंड पीस (IEP) द्वारा प्रकाशित किया गया, जो आतंकवाद में वैश्विक रुझान और पैटर्न को दिखा रहा है।

वैश्विक आतंकवाद सूचकांक के प्रमुख निष्कर्ष:

: इस सूचकांक में भारत 13वें स्थान पर रहा जबकि पाकिस्तान 6वें स्थान पर (अधिक आतंक-प्रवृत्त)
: अफगानिस्तान लगातार चौथे साल आतंकवाद से सबसे ज्यादा प्रभावित देश बना हुआ है, हालांकि हिंसा में कमी आई है
: रिपोर्ट में तालिबान द्वारा राज्य दमन के कृत्यों को शामिल नहीं किया गया था
: दक्षिण एशिया सबसे खराब औसत GTI स्कोर वाला क्षेत्र बना हुआ है
: 2022 में दुनिया में सबसे घातक आतंकवादी समूह, इस्लामिक स्टेट (IS); अल-शबाब; बलूचिस्तान लिबरेशन आर्मी (BLA) और जमात नुसरत अल-इस्लाम वाल मुस्लिमीन (JNIM)
: देखा जाए तो जलवायु परिवर्तन आतंकवादी समूहों को धन जुटाने, प्रचार करने और लोगों की भर्ती करने में मदद कर रहा है।

वैश्विक आतंकवाद सूचकांक क्या है:

: वैश्विक आतंकवाद सूचकांक ( GTI) दुनिया की 99.7 प्रतिशत आबादी को कवर करने वाले 163 देशों पर आतंकवाद के प्रभाव का विश्लेषण करने वाला एक व्यापक अध्ययन है।
: GTI प्रत्येक देश को 0 से 10 के पैमाने पर स्कोर करता है; जहां 0 आतंकवाद से कोई प्रभाव नहीं दर्शाता है और 10 आतंकवाद के उच्चतम मापने योग्य प्रभाव का प्रतिनिधित्व करता है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *