वुशु चैंपियनशिप:सादिया तारिक ने जीता स्वर्ण पदक

शेयर करें

SADIA TARIQ WINS GOLD MEDAL
सादिया तारिक ने जीता स्वर्ण पदक

सन्दर्भ-मॉस्को वुशु स्टार्स चैंपियनशिप में सादिया तारिक ने स्वर्ण पदक जीता
प्रमुख तथ्य-रूस की राजधानी मास्को में 22 से 28 फरवरी तक इस चैंपियनशिप का आयोजन किया जा रहा है।
:प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने स्वर्ण पदक जीतने पर बधाई दी है,और कहा की यह सफलता कई नवोदित एथलीटों को प्रेरित करेगी।
:सादिया ने फाइनल में स्थानीय एक रूसी खिलाड़ी को हराया।
:सादिया ने इस चैंपियनशिप में कुल तीन फाइट खेलीं और चेक गणराज्य,कज़ाकिस्तान और रूस के प्रतिद्वंदियों को हराया।
:सादिया विगत दो वर्षों से जूनियर नेशनल चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक विजेता है।
:इस चैंपियनशिप में 23 जूनियर और 15 सीनियर दोनों श्रेणियों के कुल 38 खिलाडी हिस्सा ले रहे है।
:यह चैंपियनशिप भारतीय खेल प्राधिकरण के वार्षिक कलैंडर ट्रेनिंग और कम्पटीशन के स्वीकृत इवेंट में शामिल है।
:इस प्रतियोगिता में जम्मू कश्मीर की वुशु टीम मैडल सूची में तीसरे स्थान पर रही।
:भारत के राष्ट्रीय मुख्य कोच (वुशु) कुलदीप हांडू ने कहा है कि दिसंबर 2022 में चीन में होने वाले युवा एशियाई खेलों की तैयारी के लिए सादिया ने NCOE के लिए अपना स्थान पक्का कर लिया है।
वुशु (Wushu)- वुशु” “मार्शल आर्ट” के लिए चीनी शब्द है,वुशु या कुंगफू,एक कठिन और नरम और पूर्ण मार्शल आर्ट है,साथ ही एक पूर्ण संपर्क वाला खेल भी है।
:चीनी मार्शल आर्ट के संदर्भ में इसका एक लंबा इतिहास है,इसको 1949 में पारंपरिक चीनी मार्शल आर्ट के अभ्यास को मानकीकृत करने के प्रयास में विकसित किया गया था।
:वुशु अंतर्राष्ट्रीय वुशु महासंघ (IWUF) के तहत एक अंतर्राष्ट्रीय खेल बन गया है,जिसका आयोजन हर दो वर्ष में विश्व वुशु चैंपियनशिप के रूप में किया जाता है।
:वुशु एशियाई खेलों सहित कई अन्य बहु-खेल आयोजनों में एक आधिकारिक कार्यक्रम बन गया है।


शेयर करें

Leave a Comment