Thu. May 30th, 2024
मैन पोर्टेबल एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइलमैन पोर्टेबल एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल
शेयर करें

सन्दर्भ:

: DRDO एवं भारतीय सेना ने स्वदेशी मैन पोर्टेबल एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल (MPATGM) हथियार प्रणाली का सफल परीक्षण किया।

इसका उद्देश्य है:

: MPATGM हथियार प्रणाली की प्रौद्योगिकी की उच्च श्रेष्ठता को साबित करना।

मैन पोर्टेबल एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल के बारें में:

: 13 अप्रैल, 2024 को राजस्थान के पोखरण फील्ड फायरिंग रेंज में वारहेड उड़ान परीक्षण सफलतापूर्वक आयोजित किए गए।
: उसका कई बार विभिन्न उड़ान विन्यासों में मूल्यांकन किया गया।
: इस प्रणाली में MPATGM, लॉन्चर, लक्ष्य अधिग्रहण प्रणाली और अग्नि नियंत्रण इकाई शामिल थी।
: MPATGM के टेंडेम वारहेड सिस्टम की भेदन क्षमता का परीक्षण सफलतापूर्वक पूरा हो चुका है और इसे आधुनिक कवच संरक्षित मुख्य युद्धक टैंक को परास्त करने में सक्षम पाया गया है।
: ATGM प्रणाली दिन/रात और शीर्ष हमले की क्षमता से सुसज्जित है।
: इसकी ‘डुअल मोड सीकर’ कार्यक्षमता टैंक युद्ध में इस मिसाइल क्षमता के लिए एक महत्वपूर्ण मूल्यवर्धन है।
: इस परीक्षण के साथ, प्रौद्योगिकी विकास एवं सफल प्रदर्शन का कार्य संपन्न हो गया है और यह प्रणाली अब अंतिम उपयोगकर्ता मूल्यांकन परीक्षणों के लिए तैयार है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *