Mon. Dec 4th, 2023
मिस्र बना नए विकास बैंक का सदस्यमिस्र बना नए विकास बैंक का सदस्य
शेयर करें

सन्दर्भ:

: 22 मार्च, 2023 को, अफ्रीकी-अरब राष्ट्र, मिस्र नए विकास बैंक (NDB) का सदस्य बन गया, जिसे पहले ब्रिक्स विकास बैंक कहा जाता था।

मिस्र के नए विकास बैंक(NDB) में सदस्यता के बारें में:

: मिस्र को आधिकारिक तौर पर 20 फरवरी, 2023 को सदस्य का दर्जा दिया गया था और औपचारिक अधिसूचना 22 मार्च, 2023 को जारी की गई थी।
: मिस्र के 6वें राष्ट्रपति अब्देल फत्ताह अल-सिसी ने 24-27 जनवरी, 2023 को गणतंत्र दिवस समारोह के दौरान भारत का दौरा किया।
: यात्रा के कुछ दिनों बाद, मिस्र की संसद ने उस समझौते का समर्थन किया जिसने देश को NDB में शामिल होने की अनुमति दी।
: सदस्यता को मिस्र की अमेरिकी डॉलर की मांग को कम करने में एक समर्थन के रूप में देखा गया था।

नए विकास बैंक के बारे में:

: ब्रिक्स राज्यों (ब्राजील, रूस, भारत,चीन और दक्षिण अफ्रीका) द्वारा स्थापित एक बहुपक्षीय विकास बैंक है।
: एनडीबी की स्थापना ब्रिक्स देशों द्वारा जुलाई 2014 में फोर्टालेजा में छठे ब्रिक्स शिखर सम्मेलन में हस्ताक्षरित अंतर-सरकारी समझौते के आधार पर की गई थी।
: सदस्य: मिस्र के अलावा, ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) देश, संयुक्त अरब अमीरात, बांग्लादेश और उरुग्वे एनडीबी के सदस्य हैं।
: गठन का उद्देश्य: ब्रिक्स सदस्य राज्यों और विकासशील देशों में बुनियादी ढांचा परियोजनाओं और सतत विकास परियोजनाओं के वित्तपोषण के लिए एनडीबी का गठन किया गया था।
: अब तक, बैंक ने परिवहन, जल, स्वच्छ ऊर्जा, डिजिटल और सामाजिक बुनियादी ढाँचे के साथ-साथ शहरी निर्माण जैसे क्षेत्रों में $32 बिलियन की कुल 90 से अधिक परियोजनाओं को मंजूरी दी है।
: इससे पहले, NDB को Fitch Ratings और S&P Global Ratings से ‘AA+’ अंतर्राष्ट्रीय क्रेडिट रेटिंग प्राप्त हुई थी।
: दक्षिण अफ्रीका को 15वें ब्रिक्स शिखर सम्मेलन की मेजबानी करनी है जो अगस्त 2023 में दक्षिण अफ्रीका के डरबन में आयोजित होने वाला है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *