Sun. Jan 29th, 2023
शेयर करें

पूर्वी आर्थिक मंच 2022
पूर्वी आर्थिक मंच 2022
Photo@EEF

सन्दर्भ:

: व्लादि-वोस्तोक (रूस) में आयोजित किए जा रहे सातवें पूर्वी आर्थिक मंच 2022 (Eastern Economic Forum) को प्रधानमंत्री संबोधित करेंगे

पूर्वी आर्थिक मंच 2022:

:इस फ़ोरम को 2015 में स्थापित किया गया था जो आज रशियन फार ईस्ट के विकास में अंतर्राष्ट्रीय सहयोग का एक प्रमुख वैश्विक मंच बन गया है।
:2019 में प्रधानमंत्री स्वयं इसमें हिस्सा लिए थे और एक्ट फॉर ईस्ट की नीति की घोषणा की थी।
:रशियन फार ईस्ट के साथ विभिन्न क्षेत्रों में भारत का सहयोग बढ़ा है।
: आज इंटरनेशनल नार्थ-साउथ कॉरिडोर हो, चेन्नई – व्लादि-वोस्तोक मेरीटाइम कॉरिडोर हो,या, नॉर्थर्न सी रूट हो, की कनेक्टिविटी में महत्वपूर्ण भूमिका निभाया है।
:और यह रशियन फार ईस्ट के साथ विभिन्न क्षेत्रों में भारत का सहयोग बढ़ने के परिणामस्वरूप है।
:आज यह नीति भारत और रूस की स्पेशल एंड प्रिविलेज्ड स्ट्रेटेजिक पार्टर्नशिप की एक प्रमुख स्तम्भ बन चुकी है।
:भारत आर्कटिक विषयों पर रूस के साथ अपनी साझेदारी को मजबूती देने के प्रति इच्छुक है।
:साथ ही उर्जा सहित भारत ने फार्मा और डायमंड के क्षेत्रों में भी रशियन फार ईस्ट में निवेश किया है।
:रशियन फार ईस्ट में तेजी से विकास हो सकता है यदि भारतीय प्रतिभा और प्रोफ़ेशनलिज़्म इसमें शामिल कर लिए जाए।
: रूस के पूर्व में स्थित व्‍लादिवोस्‍तोक एक पोर्ट सिटी है जो चीन और साउथ कोरिया से अपनी सीमा साझा करती है।
:यह जगह ट्रांस-सर्बियन रेलवे का टर्मिनस भी है जो इसे मॉस्‍को से जोड़ता है।
: व्‍लादिवोस्‍तोक में अपना दूतावास खोलने वाला भारत पहला देश था।
: प्राकृतिक संसाधनों के खजानो से भरा है व्लादिवोस्तोक।
:पूर्वी आर्थिक मंच रूसी और वैश्विक निवेश समुदायों के भीतर संबंधों को स्थापित करने और मजबूत करने के लिए एक प्रमुख अंतरराष्ट्रीय मंच है।
: रशियन फार ईस्ट की आर्थिक क्षमता, निवेश के अवसरों और उन्नत विशेष आर्थिक क्षेत्रों के भीतर व्यावसायिक स्थितियों के व्यापक विशेषज्ञ मूल्यांकन के लिए एक मंच प्रदान करता है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *