Mon. Jan 30th, 2023
शेयर करें

स्वच्छ सुजल प्रदेश
स्वच्छ सुजल प्रदेश
Photo@PIB

सन्दर्भ:

:आज, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह पहलास्वच्छ सुजल प्रदेशबन गया है,और साथ में पुडुचेरी ने स्‍वयं को ‘हर घर जल’ सत्‍यापित संघ राज्‍य क्षेत्र घोषित किया है।

स्वच्छ सुजल प्रदेश:

:15 अगस्त 2019 को जल जीवन मिशन के शुभारंभ के समय, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह और पुडुचेरी के क्रमशः 46% और 81% ग्रामीण परिवारों के पास नल कनेक्शन के माध्यम से पीने योग्य पेयजल की सुविधा थी।
:विभिन्न व्यवधानों और चुनौतियों के बावजूद, पंचायत प्रतिनिधियों, पानी समितियों और दोनों संघ राज्‍य क्षेत्रों के जिला अधिकारियों के लगातार प्रयासों से इनके सभी ग्रामीण परिवारों में कार्यशील नल के पानी के कनेक्शन का प्रावधान किया गया है।
:अब अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के सभी 62,037 ग्रामीण परिवारों और पुडुचेरी के 1,14,908 ग्रामीण परिवारों में अब नल कनेक्शन के माध्यम से पीने योग्य पानी तक सुविधा है।
:इसके अतिरिक्त सभी स्कूलों, आंगनवाड़ी केंद्रों, ग्राम पंचायत भवनों, स्वास्थ्य केंद्रों, सामुदायिक केंद्रों, आश्रमशालाओं में भी सभी स्कूलों, आंगनवाड़ी केंद्रों, ग्राम पंचायत भवनों, स्वास्थ्य केंद्रों, सामुदायिक केंद्रों, आश्रमशालाओं में भी यह सुविधा उपलब्द्ध है।
:अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के 266 गांवों और पुडुचेरी के 246 गांवों के लोगों ने ग्राम सभा में एक प्रस्ताव पारित कर अपने गांवों को ‘हर घर जल‘ के रूप में सत्‍यापित किया है की सभी घरों को गुणवत्ता सहित पानी की आपूर्ति हो रही है।
:क्योकि जल जीवन मिशन केवल जल आपूर्ति के बुनियादी ढांचे के निर्माण पर नहीं, बल्कि जल सेवा वितरण पर केंद्रित है,और इसका सिद्धांत भी है कि कोई वंचित न रहे।
:प्रधान मंत्री के “सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास” के दृष्टिकोण को अपनाते हुए 114 जिलों, 1,284 ब्लॉक, 75,271 ग्राम पंचायतों और 1,57,796 गांवों को ‘हर घर जल’ के रूप में संसूचित किया गया है।
:इस प्रयास को आगे बढ़ाते हुए तीन राज्यों – गोवा, तेलंगाना और हरियाणा और तीन संघ राज्‍य क्षेत्रों– अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, दादरा एवं नगर हवेली तथा दमण एवं दीव और पुडुचेरी ने 100% नल जल कवरेज प्रदान किया है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *