Fri. Feb 3rd, 2023
द्विपक्षीय नौसेना अभ्यास वरुण - 2023 का आयोजन
शेयर करें

सन्दर्भ:

: भारत और फ्रांस के बीच द्विपक्षीय नौसेना अभ्यास वरुण – 2023 का आयोजन।

वरुण – 2023 के बारें में:

: इस द्विपक्षीय नौसेना अभ्यास का यह 21वां संस्करण है।
: यह द्विपक्षीय अभ्यास 16 जनवरी 2023 को पश्चिमी समुद्र तट पर प्रारंभ हुआ।
: यह अभ्यास 16 से 20 जनवरी 2023 तक पांच दिनों के लिए आयोजित किया गया है।
: दोनों देशों की नौसेनाओं के बीच द्विपक्षीय अभ्यास वर्ष 1993 में शुरू किया गया था।
: इसे साल 2001 में ‘वरुण’ नाम दिया गया था।
: अभ्यास के वर्तमान संस्करण में भारतीय नौसेना के कई युद्धपोत और नौकाएं भाग ले रही हैं।
: इस दौरान उन्नत वायु रक्षा अभ्यास, सामरिक युद्धाभ्यास, सतह पर गोलीबारी, रिप्लेनिशमेंट और अन्य समुद्री संचालन गतिविधियां आयोजित होंगी।
: इनमें स्वदेशी गाइडेड मिसाइल स्टेल्थ डिस्ट्रॉयर जहाज INS चेन्नई, गाइडेड मिसाइल फ्रिगेट INS तेग नौका, समुद्री गश्ती विमान P-8आई और डोर्नियर, इंटीग्रल हेलीकॉप्टर तथा मिग29 के लड़ाकू विमान की भागीदारी शामिल हैं।
: फ्रांसीसी नौसेना का प्रतिनिधित्व विमानवाहक पोत चार्ल्स डी गॉल, एफएस फोर्बिन और प्रोवेंस नौका, सहयोगी जहाज एफएस मार्ने तथा समुद्री गश्ती विमान अटलांटिक द्वारा किया जा रहा है।
: दोनों इकाइयां इस अभ्यास में समुद्री क्षेत्र की बहु-स्तरीय संचालन कार्रवाई के लिए अपनी अंतर-संचालनीयता को बढ़ाएंगी और क्षेत्र में शांति, सुरक्षा तथा स्थिरता को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एकीकृत बल के रूप में अपनी क्षमता का प्रदर्शन करेंगी।
: यह अभ्यास समुद्र में बेहतर तैयारी सुनिश्चित करने के उद्देश्य से आपसी सहयोग को बढ़ावा देने के लिए दोनों नौसेनाओं के बीच परिचालन स्तर की सहभागिता की सुविधा प्रदान करता है, जो वैश्विक समुद्री इलाकों की सुरक्षा, संरक्षा एवं स्वतंत्रता के लिए दोनों देशों की साझा प्रतिबद्धता को रेखांकित करता है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *