देश का पहला ‘हर घर जल’ प्रमाणित जिला बना बुरहानपुर

शेयर करें

हर घर जल' प्रमाणित जिला बना बुरहानपुर
हर घर जल’ प्रमाणित जिला बना बुरहानपुर

सन्दर्भ:

:जल शक्ति मंत्रालय ने घोषणा की है कि मध्य प्रदेश का बुरहानपुर देश का पहला हर घर जल प्रमाणित जिला बन गया है,जिसमें जिले के सभी 254 गांवों को सुरक्षित पेयजल उपलब्ध है।

प्रमुख तथ्य:

:अगस्त 2019 में जिले के केवल 37 प्रतिशत घरों में सुरक्षित पेयजल की पहुंच थी और तीन साल से भी कम समय में, सभी घर इस सुविधा का उपयोग करने में सक्षम हैं।
:मध्य प्रदेश में 22 जुलाई तक 42.71 प्रतिशत घरों में नल का पानी उपलब्ध कराया गया है।
:15 अगस्त 2019 तक बुरहानपुर में सिर्फ 37,241 घरों में नल कनेक्शन थे।
:हालांकि, 22 जुलाई तक, जिले के सभी घरों – 1,01,905 में 43,701 आदिवासी परिवारों सहित 254 गांवों में नल के पानी की पहुंच है।

हर घर जल योजना:

:इस योजना की शुरुआत अगस्त 2019 में हुआ था।
:शुरुआत में यह आंकड़ा 17 प्रतिशत था,वर्तमान में 51 प्रतिशत लक्ष्य पूरा हो चुका है।
:सरकार ने 2024 तक हर ग्रामीण घर में नल के ज़रिए पीने के पानी की आपूर्ति को सुनिश्चित करने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य तय किया है।
:2022-23 की पहली तिमाही में 38.75 लाख नल कनेक्शन दिए जा चुके हैं, जबकि पिछले साल इसी तिमाही में ये आंकड़ा 35.22 लाख का था।
:सरकार ने 25 जुलाई से 12 अगस्त तक हर घर जल उत्सव आयोजित करने का भी फैसला किया है।
:इस दौरान क़रीब डेढ़ लाख ऐसे गांवों में नल कनेक्शन को प्रमाणित किया जाएगा, जहां ये योजना पूरी तरह लागू करने की बात कही जा रही है. हालांकि इनमें से सिर्फ 11 हज़ार को ही अब तक प्रमाणित किया जा चुका है।
:इस अभियान के दौरान हर घर जल प्रमाणीकरण पर ज़ोर दिया जाएगा, खासकर उन राज्यों में जहां ये योजना बड़े स्तर पर लागू हुई है।


शेयर करें

Leave a Comment