डेली करेंट अफेयर्स 18 नवंबर 2021

शेयर करें

1-करतारपुर साहिब गुरुद्वारा कॉरिडोर को खोल सकती है सरकार

 

सन्दर्भ-सरकार सिख श्रद्धालुओं के दर्शन करने हेतु पाकिस्तान स्थित करतारपुर साहिब गुरुद्वारा कॉरिडोर को पुनः खोलने पर विचार कर रही है और जिसे संभवतः 19 नवंबर से खोले जाने की संभावना है,इस दिन गुरुनानक जयंती है जिसे प्रकाश पर्व या गुरु पर्व कहा जाता है।
महत्त्व क्या है – यह पवित्र स्थान सिखों लिए बहुत महत्त्व रखता है क्यों कि इस स्थान पर गुरुनानक जी ने यहाँ सिख को इकठ्ठा किए थे और मृत्यु तक(1539) यही पर 18 वर्ष तक वास् किये थे। यह स्थान लाहौर से 120 किमी दूर रावी नदी के तट पर स्थित है।
दर्शन हेतु एक बड़ी दूरबीन की व्यवस्था गुरुद्वारा डेरा बाबा नानक में किया जाता है जहां से भारतीय श्रद्धालु भारतीय सीमा से दर्शन करते है।
क्या है करतारपुर कॉरिडोर- इस कॉरिडोर को शांति पथ भी कहते है जो भारत के गुरुदासपुर जिले में स्थित गुरुद्वारा डेरा बाबा नानक को पाकिस्तान के करतारपुर में स्थित गुरुद्वारा दरबार साहिब से जोड़ता है।
कब हुआ था इस कॉरिडोर पर समझौता-:भारत और पाकिस्तान के बीच यह समझौता 24 अक्टूबर 2019 को किया गया जिसके तहत भारतीय तीर्थ यात्रियों को पाकिस्तान स्थित करतारपुर साहिब गुरूद्वारे की यात्रा की सुविधा दी जाएगी बीना वीजा के। इस गलियारे का उपयोग सभी धर्मों के लोग कर सकते है केवल एक वैध पासपोर्ट की जरुरत होगी।
: यह समझौता पहले पांच वर्षों के लिए वैध रहेगा।
:यात्रा की सूची भारत को 10 दिन पहले पाकिस्तान को सौपनी पड़ेगी और पाकिस्तान इस यात्रा की सूची को यात्रा से चार दिन पहले भारत को सौपेगा।
:इस गलियारे में 13 वर्ष से कम और 75 वर्ष से अधिक के उम्र व्यक्ति समूह में यात्रा कर सकते है।
: यह कॉरिडोर सुबह से शाम तक खुला रहता है सुबह वाले तीर्थयात्रियों को शाम तक वापस लौटना होता है।

2-भारत में यूएन के रेजिडेंट कोआर्डिनेटर बने शोम्बी शार्प

सन्दर्भ-हाल ही में संयुक्त राष्ट्र महासचिव ने शोम्बी शार्प को भारत में संयुक्त राष्ट्र का रेजिडेंट कोऑर्डिनेटर नियुक्त किया है ये संयुक्त राज्य अमेरिका के ही नागरिक है।
रेजिडेंट कोऑर्डिनेटर क्या होता है-सरकार के लिए संयुक्त राष्ट्र महासचिव का नामित प्रतिनिधि होता है,जो संयुक्त राष्ट्र के जनादेश की वकालत करने के लिए संयुक्त राष्ट्र की टीम का नेतृत्व करता है।ये राष्ट्रीय COVID-19 प्रतिक्रिया योजनाओं के समर्थन में कार्य का नेतृत्व करेंगे।
शोम्बी शार्प के बारे में –शोम्बी शार्प संयुक्त राष्ट्र विकास कार्यक्रम के कई महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके है इसके अतिरिक्त यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट(USAID) पॉलिसी चैंपियन रहने के अलावा UNDP एडमिनिस्ट्रेटर अवार्ड् के लिए भी नामित हो चुके है।ये 25 वर्षों से अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर समावेशी एवं सतत विकास को बढ़ावा देने में लगे है।
USAID क्या है-यह विश्व की प्रमुख विकास एजेंसी है जो गरीबी काम करने,लोगो को आगे बढ़ने और लोकतांत्रिक शासन को मजबूत बनाने में अंतर्राष्ट्रीय विकास और मानवीय प्रयासों का नेतृत्व करता है।

3-कलपथी रथ महोत्सव 

सन्दर्भ –हाल ही में केरल के प्रसिद्ध त्यौहार कलपथी रथ महोत्सव/कल्पथी राठोलस्वम मनाया गया।
प्रमुख तथ्य-:यह त्योहार हर साल नवंबर के महीने में मनाया जाता है जो दस दिनों तक चलता है।पिछले साल कोविड के कारण आंशिक रूप से मनाया गया था।
:इसका आयोजन राज्य के पलक्कड़ जिले के कलापति गांव में किया गया।
:उत्सव की शुरुआत कल्पथी श्री विशालक्षी समिधा श्री विश्वनाथस्वामी मंदिर से की गई,यह मालाबार का सबसे पुराना शिव मंदिर है जिसे पलक्कड़ के राजा द्वारा 1425 ईसवी में बनवाया गया था।
:यह त्यौहार की शुरुआत ध्वजारोहण के साथ प्रारंभ होता है और रथसंगमम के साथ समाप्त होता है।
:त्योहार के अंतिम दिन सजाए गए रथों को भक्तों द्वारा खींचा जाता है।
:इस त्यौहार का सबसे बड़ा आकर्षण श्री विश्वनाथ स्वामी (शिव) का विशाल रथ होता है। 

:इस रथ यात्रा में भगवन शिव,माता पार्वती और पुत्रों श्री गणेश और मुरुगन के साथ बाहर लाये जाते है।

4-पोचमपल्ली गांव बना सर्श्रेष्ठ पर्यटन गांव  

चर्चा क्यों है – तेलंगाना स्थित पोचमपल्ली गांव को सर्वश्रेष्ठ पर्यटन गांव के रूप में संयुक्त राष्ट्र विश्व पर्यटन संगठन यानी UNWTO ने नामित किया है।
प्रमुख तथ्य- :इसी श्रेणी में भारत के दो और गांव भी नामांकित किए गए हैं जिनमे मेघालय का कोंगथोंग गांव और मध्य प्रदेश लधपूराखास।
:पोचमपल्ली गांव हैदराबाद से 50 किलोमीटर दूर तेलंगाना नलगोंडा जिले का एक क़स्बा है।
:इसे भारत के सिल्क सिटी रूप में भी जाना जाता हैइसका कारण है खास डिज़ाइन में बनायीं जाने वाली साड़ियां जिन्हे इकत नाम से जाना जाता है।
:साल 2004 में पोछमपल्ली इकत साड़ी को GI टैग का दर्जा दिया गया था।
:इकत एक मलेशियाई इंडोनेशियाई शब्द है जिसका अर्थ है टाई एंड डाई”
:विनोबा भावे ने 1951 में यही से भूदान आंदोलन की शुरुआत किया था।
पर्यटन गांव क्या होते है- दुनियाभर के उन गांवो को सम्मानित करने के लिए एक पहल है जो पर्यटन के माध्यम से अपनी सांस्कृतिक विरासत और सतत विकास के प्रसार और संरक्षण के लिए प्रतिबद्ध होते है।
UNWTO- यह सयुंक्त राष्ट्र की एक प्रमुख एजेंसी है जो टिकाऊ और सार्वभौमिक रूप से सुलभ पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए काम करती है,इसका मुख्यालय स्पेन स्थित मेड्रिड में है।

5-पश्चिम बंगाल सरकार ने शुरू किया “दुआरे राशन योजना” 

सन्दर्भ- पश्चिम बंगाल सरकार के द्वारा अपने राज्य के निवासियों के लिए दुआरे राशन योजना की शुरुआत 16 नवंबर 2021को की गयी है,इस योजना के अंतर्गत नागरिकों को उनके घर के दरवाजे पर ही खाद्य पदार्थों की डिलीवरी सुनिश्चित की जाएगी।
प्रमुख तथ्य- :योजना में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के माध्यम से खाद्यान्न को उपलब्ध कराया जाएगा।
:इस योजना से 10 करोड़ लोगों को लाभ मिलेगा साथ ही रोजगार सृजन भी होगा।
:योजना के बेहतर क्रियान्वयन के लिए हर 500 मीटर की दूरी पर राशन पहुंचाने वाले वाहनों को खड़ा किया जाएगा।
:इन राशन डीलरों को वाहन खरीदने के लिए सरकार की ओर से आर्थिक सहायता भी दी जाएगी।
:प्रत्येक डीलर राशन पहुंचाने के लिए दो कर्मचारियों को रख सकते हैं जिनका वेतन ₹10000 होगा कर्मचारियों के वेतन में ₹5000 सरकार द्वारा दिया जायेगा बाकी डीलरों को देना होगा।
:इस योजना के अंतर्गत राज्य सरकार 100 मिलियन अर्थात 10 करोड़ से अधिक परिवारों को मुफ्त में 5 किलो राशन प्रदान करेगी।
:आवश्यक खाद्य सामग्री से भरे वाहन के आने से पहले ही उस विशेष क्षेत्र में जनता को सूचित कर दिया जायेगा।

:सरकार ने साथ में खाद्य साथी:आमार राशन मोबाइल ऐप भी लांच किया इसके माध्यम से लोग राशन कार्ड के आवेदन करने से लेकर इसके बारे में जानकारी भी ले सकते है।
:पश्चिम बंगाल सरकार ने हाल ही में कुछ अन्य योजनाएं भी शुरू की है जिनमे प्रमुख है –
लक्ष्मीर भंडार योजना-पुरे राज्य की महिलाओं के लिए एक सशर्त नकद हस्तांतरण योजना है। इसमें सामान्य वर्ग की महिलाओं के लिए रुपया 500/माह,तथा SC/ST के महिलाओं के लिए रुपया 1000/माह दिया जाता है।
स्वामी विवेकानंद छात्रवृत्ति 2021- इस योजना के अंतर्गत छात्रवृत्ति के लिए ऐसे छात्र आवेदन कर सकते हैं जिनके परिवार की वार्षिक आय 2.5 लाख रुपए से कम है।

विस्तृत जानकारी के लिए क्लिक करें- स्वामी विवेकानंद छात्रवृत्ति 2021-

6-सिडनी संवाद में मुख्य भाषण देंगे,प्रधानमंत्री 

सन्दर्भ-17 -19 नवंबर के बीच आयोजित सिडनी संवाद में 18 नवंबर को प्रधानमंत्री मुख्या भाषण देंगे तथा आरम्भिक भाषण ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरीसन देंगे।
प्रमुख तथ्य- :इस संवाद में प्रधानमंत्री भारत में “प्रौद्योगिकी विकास और क्रांति” थीम पर अपना व्याख्यान देंगे।
:सिडनी संवाद ऑस्ट्रेलियन स्ट्रैटेजिक पॉलिसी इंस्टिट्यूट की एक पहल है।
:इस संवाद में ऑस्ट्रियन प्रधानमंत्री के साथ जापान के प्रधानमंत्री भी मुख्य भाषण देंगे।
सिडनी संवाद क्या है-यह एक ऐसा मंच है जिसके माध्यम से राजनेताओं,उद्योगपतियों और सरकारी प्रमुखों को विस्तृत चर्चाएं करने,नये विचारों को सृजित करने और उभरती एवं महत्वपूर्ण प्रोद्योगिकियों से उत्पन्न अवसरों और चुनौतियों की सामान्य समझ विकसित करने की दिशा में काम करते है।

 

 

 


शेयर करें

Leave a Comment