Thu. May 30th, 2024
ज़ांज़ीबार में आईआईटी-मद्रासज़ांज़ीबार में आईआईटी-मद्रास
शेयर करें

सन्दर्भ:

: ज़ांज़ीबार में आईआईटी-मद्रास ने अपना कैंपस खोला है और यह विदेश में खुलने वाला आईआईटी का पहला कैंपस बन गया है।

ज़ांज़ीबार में आईआईटी-मद्रास के मुख्‍यांश:

: यह अग्रणी उद्यम भारत की शिक्षा प्रणाली को वैश्विक मंच पर पेश करने की केंद्र सरकार की पहल का हिस्सा है।
: यह बैचलर और मास्टर स्तर पर डेटा साइंस और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में कार्यक्रम पेश करेगा।
: उद्घाटन बैच में ज़ांज़ीबार, मुख्य भूमि तंजानिया, नेपाल और भारत के छात्र शामिल हैं।
: पहले बैच के छात्रों में 40 प्रतिशत महिलाएं हैं।
: इस परिसर को अकादमिक सहयोग की एक श्रृंखला से लाभ होगा, जिसमें विदेश में अध्ययन कार्यक्रम, कंपनियों के साथ इंटर्नशिप और चेन्नई में आईआईटी-मद्रास परिसर में अवसर शामिल हैं।
: यह सभी राष्ट्रीयताओं के छात्रों के लिए खुला है।
: चयन प्रक्रिया में स्क्रीनिंग टेस्ट और साक्षात्कार शामिल है।

ज़ांज़ीबार के बारे में:

: यहाँ के निवासी वे ‘स्वाहिली’ भाषा बोलते हैं।
: ज़ांज़ीबार हिंद महासागर में तंजानिया के तट पर एक द्वीपसमूह है और तंजानिया का एक अर्ध-स्वायत्त प्रांत है।
: उन्गुजा और पेम्बा द्वीपसमूह के दो मुख्य द्वीप हैं।
: 1890 में ज़ांज़ीबार ब्रिटेन का संरक्षित राज्य (उपनिवेश नहीं) बन गया।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *