Sun. Feb 25th, 2024
जनरेटिव एआईजनरेटिव एआई
शेयर करें

सन्दर्भ:

: नई सामग्री बनाने के लिए मौजूदा टेक्स्ट, ऑडियो फाइलों या छवियों का उपयोग करने हेतु जनरेटिव एआई का प्रयोग किया जा रहा है।

जनरेटिव एआई के बारे में:

: जनरेटिव आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Generative Artificial Intelligence) नई सामग्री बनाने के लिए मौजूदा टेक्स्ट, ऑडियो फाइलों या छवियों का उपयोग करने के लिए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस-सक्षम मशीनों की क्षमता को संदर्भित करता है।
: सॉफ्टवेयर पिछले शब्द अनुक्रमों के आधार पर अगले शब्द की भविष्यवाणी करने के लिए या पिछली छवियों का वर्णन करने वाले शब्दों के आधार पर अगली छवि का अनुमान लगाने के लिए जटिल मशीन लर्निंग मॉडल का उपयोग करता है।
: “बड़े भाषा मॉडल” – एलएलएम की शुरुआत 2017 में गूगल ब्रेन में हुई थी, जहां शुरुआत में संदर्भ को संरक्षित करते हुए शब्दों के अनुवाद के लिए उनका उपयोग किया गया था।
: तब से, Google (BERT और LaMDA), Facebook (OPT-175B, BlenderBot), और OpenAI सहित प्रमुख तकनीकी फर्मों में बड़ी भाषा और टेक्स्ट-टू-इमेज मॉडल का प्रसार हुआ है, जिसमें Microsoft प्रमुख निवेशक (GPT-) है। टेक्स्ट के लिए 3, इमेज के लिए DALL-E2 और स्पीच के लिए व्हिस्पर)।

जनरेटिव एआई के लाभ:

: स्वचालित सामग्री पीढ़ी
: बेहतर सामग्री की गुणवत्ता
: बढ़ी हुई सामग्री विविधता
: वैयक्तिकृत सामग्री

जनरेटिव एआई के लिए भारतीय पहल:

: सरकार ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के अनुसंधान और अपनाने के लिए एक पारिस्थितिकी तंत्र विकसित करने के उद्देश्य से आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के लिए राष्ट्रीय रणनीति प्रकाशित की है
: इसके बाद ‘मेक एआई इन इंडिया एंड मेक एआई वर्क फॉर इंडिया’ की दृष्टि से, एमईआईटीवाई ने एआई-आधारित समाधानों के विकास के लिए ‘आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर राष्ट्रीय कार्यक्रम’ के कार्यान्वयन को मंजूरी दे दी है और इसके लिए #एआई फॉर आल का जिम्मेदार और परिवर्तनकारी उपयोग सुनिश्चित किया है।
: विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग इंटरडिसिप्लिनरी साइबर-फिजिकल सिस्टम्स (NM-ICPS) पर राष्ट्रीय मिशन को लागू कर रहा है।

जनरेटिव एआई से जुड़ी नैतिक चिंताएँ:

: पूर्वाग्रह और भेदभाव: एआई मॉडल अपने प्रशिक्षण डेटा में पूर्वाग्रहों को स्थायी और बढ़ा सकते हैं, जिससे भेदभावपूर्ण परिणाम और अन्यायपूर्ण निर्णय हो सकते हैं।
: जिम्मेदारी और जवाबदेही
: गोपनीयता: जनरेटिव एआई मॉडल में बड़ी मात्रा में व्यक्तिगत डेटा एकत्र करने और उत्पन्न करने की क्षमता होती है, जो गोपनीयता संबंधी चिंताओं को बढ़ा सकती है।
: स्वामित्व और नियंत्रण
: निष्पक्षता और पारदर्शिता: एआई मॉडल ऐसे निर्णय ले सकते हैं जिनमें पारदर्शिता और निष्पक्षता का अभाव हो।
: नौकरी का विस्थापन
: दुरुपयोग: AI मॉडल का उपयोग दुर्भावनापूर्ण उद्देश्यों के लिए किया जा सकता है, जैसे कि नकली समाचार या गहरी नकली बातें बनाना, या अभद्र भाषा फैलाना।
: फॉर्म का शीर्ष


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *