Fri. Jul 12th, 2024
कोडेक्स एलिमेंटेरियस कमीशनकोडेक्स एलिमेंटेरियस कमीशन
शेयर करें

सन्दर्भ:

: कोडेक्स एलिमेंटेरियस कमीशन (CAC) ने इटली के रोम में आयोजित अपने 46वें सत्र के दौरान श्रीअन्न पर भारत के मानकों की प्रशंसा की है और श्रीअन्न के लिए वैश्विक मानकों के विकास के लिए उसके प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया है।

कोडेक्स एलिमेंटेरियस कमीशन के बारें में:

: इसे संयुक्त राष्ट्र के WHO और FAO  द्वारा 188 सदस्य देशों के साथ बनाई गई एक अंतरराष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा और गुणवत्ता मानक-निर्धारण निकाय के रूप स्थापित किया गया।
: वर्तमान सत्र कोडेक्स एलिमेंटेरियस आयोग की 60वीं वर्षगांठ है।
: भारत 1964 से इसका सदस्य रहा है।
: भारत ने अब तक विभिन्न कोडेक्स मानकों/पाठों और दिशानिर्देशों से संबंधित 12 EWG  की अध्यक्षता और 28 EWG की सह-अध्यक्षता की है।
: ज्ञात हो कि भारत द्वारा प्रस्तावित महत्वपूर्ण मानकों में भिंडी, बीडब्ल्यूजी काली मिर्च, बैंगन, सूखे और निर्जलित लहसुन, सूखे या निर्जलित मिर्च और लाल शिमला मिर्च, ताजा खजूर, आम की चटनी, मिर्च सॉस, वेयर आलू और गैर-खुदरा कंटेनरों के लिए लेबलिंग संबंधी आवश्यकताओं के लिए मानक शामिल हैं।

आयोग द्वारा श्रीअन्न पर भारत के मानकों की प्रशंसा क्यों:

: कोडेक्स आयोग के पास वर्तमान में ज्वार और बाजरे के लिए मानक हैं।
: भारत ने 8 गुणवत्ता मानकों को निर्दिष्ट करते हुए 15 प्रकार के श्रीअन्न के लिए एक व्यापक समूह मानक तैयार किया है, जिसे अंतरराष्ट्रीय बैठक में जोरदार सराहना मिली।
: भारत हेतु दालों के मामले में, विशेष रूप से फिंगर बाजरा, बार्नयार्ड बाजरा, कोडो बाजरा, प्रोसो बाजरा और लिटिल बाजरे के समूह मानकों के रूप में श्रीअन्न के लिए वैश्विक मानकों के विकास के लिए एक प्रस्ताव रखा।
: रोम में FAO मुख्यालय में सत्र में सर्वसम्मति से प्रस्ताव का समर्थन किया गया, जिसमें यूरोपीय संघ (EU) सहित 161 सदस्य देशों के प्रतिनिधि भाग ले रहे हैं।
: भारत ने श्रीअन्न को आम आदमी की पसंद बनाने में अहम भूमिका निभाई है।
: भारत का प्रस्ताव दुनिया भर में श्रीअन्न और इसके लाभों को उजागर करने में मानक स्थापित करेगा।
: FSSAI द्वारा 15 प्रकार के श्रीअन्न के लिए बनाए गए समूह मानक, जो 8 गुणवत्ता मापदंडों को निर्दिष्ट करते हैं।
: श्रीअन्न के लिए समूह मानक बनाते समय ज्वार और बाजरे के लिए मौजूदा कोडेक्स मानकों की भी समीक्षा की जाएगी।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *