Mon. Dec 5th, 2022
शेयर करें

के के शैलजा ने मैग्सेसे पुरस्कार लेने से किया इंकार
के के शैलजा ने मैग्सेसे पुरस्कार लेने से किया इंकार

सन्दर्भ:

:केरल की पूर्व स्वास्थ्य मंत्री और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की वरिष्ठ नेता के.के. शैलजा ने रैमन मैग्सेसे पुरस्कार लेने से इसलिए इनकार कर दिया है।

कारण है:

:फिलीपींस के दिवंगत राष्ट्रपति रेमन मैग्सेसे कम्युनिष्टों के खिलाफ कथित क्रूरता के लिए जाने जाते थे,साथ ही उन्हें व्यक्तिगत तौर पर इसे प्राप्त करने में कोई दिलचस्पी नहीं है।

के.के. शैलजा प्रमुख तथ्य:

:कोरोना वायरस और नीपा वायरस से निपटने के प्रयासों के लिए उन्हें 64वें रैमन मैग्सेसे अवार्ड के लिए चुना गया था
:उनका कहना है कि उन्हें उस काम के लिए पुरस्कार देने के लिए विचार किया गया, जो वास्तव में सामूहिक प्रयास था और उनके द्वारा इसे (पुरस्कार) व्यक्तिगत तौर पर प्राप्त करना सही नहीं है।
:उनकी पार्टी ने भी इसे लेने से मना कर दिया
: यह पुरस्कार केरल में सार्वजनिक स्वास्थ्य के मुद्दों के प्रबंधन के लिए दिया जा रहा है।

रैमन मैग्सेसे अवार्ड के बारें में:

:ये अवार्ड फिलीपींस के तीसरे राष्ट्ऱपति रैमन मैग्सेसे की याद में दिया जाता है।
:इसकी स्थापना 1957 में की गई थी। .
:इसे एशिया का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार माना जाता है जिसे एशिया का नोबेल पुरस्कार कहा जाता है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published.