Sat. Apr 20th, 2024
'उन्मेष' और 'उत्कर्ष' उत्सव'उन्मेष' और 'उत्कर्ष' उत्सव Photo@PIB
शेयर करें

सन्दर्भ:

: राष्ट्रपति ने मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में ‘उन्मेष’ और ‘उत्कर्ष’ उत्सवों का उद्घाटन किया

‘उन्मेष’ और ‘उत्कर्ष’ उत्सव के बारें में:

: इसका उद्घाटन 3 अगस्त, 2023 को किया गया, जो 5 अगस्त 2023 तक चलेगा।
: इन दोनों कार्यक्रमों में से ‘उत्कर्ष’ का आयोजन संगीत नाटक अकादमी और ‘उन्मेष’का आयोजन साहित्य अकादमी द्वारा किया जा रहा है।
: ‘उन्मेष’- एक अंतर्राष्ट्रीय साहित्य महोत्सव है जबकि ‘उत्कर्ष’ – लोक और जनजातीय कला महोत्सव है।
: साहित्य समाज से जोड़ता है और साथ ही लोगों को भी एक-दूसरे से जोड़ता है।
: वही साहित्य और कलाएं सार्थक हैं जो ‘मैं’ और ‘मेरा’ से ऊपर उठकर रची और प्रस्तुत की गईं।
: सभी भारतीय भाषाओं की प्रमुख कृतियों का अन्य भाषाओं में अनुवाद भारतीय साहित्य को और समृद्ध करेगा।
: साहित्य ने मानवता को आईना दिखाया है, बचाया भी है और आगे भी बढ़ाया है।
: साहित्य और कला ने संवेदना और करुणा को, यानी मनुष्य की मानवता को सुरक्षित रखा है।
: इसका प्रसारण संगीत नाटक अकादमी के फेसबुक और यूट्यूब चैनल के साथ ही संस्कृति विभाग के फेसबुक पेज और यूट्यूब चैनल पर किया जाएगा।
: उन्मेष उत्सव एशिया का सबसे बड़ा साहित्यिक सम्मेलन है।
: इसका आयोजन आजादी के अमृत महोत्सव के तहत किया जा रहा है।
: उन्मेष का पहला संस्करण हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में किया गया था।
: अब इसका दूसरा संस्करण मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में किया जा रहा है।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *