इस्पात धातुमल (Steel Slag) से बनी भारत की पहली सड़क

शेयर करें

SURAT ME BANA DESH KA PAHALA 6 LANE STEEL SLAG SADAK
स्टील स्लैग से बनी भारत की पहली सड़क
Photo:Twitter

सन्दर्भ-इस्पात मंत्री राम चंद्र प्रसाद सिंह ने सूरत में इस्पात धातुमल (Steel Slag) से बने छह लेन वाले देश के पहले राजमार्ग का उद्घाटन किया है।
प्रमुख तथ्य-:100% स्टील-प्रसंस्कृत स्लैग का उपयोग करके बनाई गई सड़क “कचरे को धन में परिवर्तित करने” और इस्पात संयंत्रों की स्थिरता में सुधार का एक वास्तविक उदाहरण है।
:स्लैग इस्पात निर्माण का उप-उत्पाद है।
:सड़क निर्माण में ऐसी सामग्री का उपयोग न केवल इसकी स्थायित्व को बढ़ाएगा बल्कि निर्माण की लागत को कम करने में भी मदद करेगा क्योंकि स्लैग-आधारित सामग्री में प्राकृतिक समुच्चय की तुलना में बेहतर गुण होते हैं।
:सड़क निर्माण में स्टील स्लैग का उपयोग देश में प्राकृतिक समुच्चय की कमी को भी दूर करेगा।
:भारत में विभिन्न प्रक्रिया मार्गों से स्टील स्लैग का उत्पादन 2030 तक बढ़ने की संभावना है।
:यह सड़क केंद्रीय सड़क अनुसंधान संस्थान (CRRI) – वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान परिषद (CSIR), आर्सेलर मित्तल निप्पॉन स्टील (AMNS) भारत की प्रयोगशाला के साथ संयुक्त रूप से बनाई गई है।
:स्लैग एक उप-उत्पाद है जो स्टील के निर्माण के दौरान तीन प्रक्रियाओं, अर्थात् बेसिक ऑक्सीजन फर्नेस (BOF) रूट, इलेक्ट्रिक आर्क फर्नेस (EAF) और इंडक्शन फर्नेस (IF) के माध्यम से निकलता है।
:जहां तक स्लैग के उपयोग का संबंध है,यह उद्योग के लिए एक सफलता है,स्लैग का उपयोग केवल लैंडफिलिंग के लिए किया जा रहा था।


शेयर करें

Leave a Comment