सुपर कंप्यूटर “परम गंगा” की स्थापना की गई

शेयर करें

SUPER COMPUTER PARAM GANGA
सुपर कंप्यूटर “परम गंगा”

सन्दर्भ-हाल ही में IITरुड़की में सुपर कंप्यूटर परम गंगा की स्थापना की गई।
प्रमुख तथ्य-इसे C-DAC यानी सेण्टर फॉर डेवलपमेंट ऑफ़ एडवांस कंप्यूटिंग द्वारा बनाया गया है।
:इसका डिज़ाइन नेशनल सुपर कंप्यूटिंग मिशन (NSM) के चरण-2 के तहत तैयार किया गया है।
:इसका व्यापक उपयोग डेटा साइंस,मशीन लर्निंग,आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जैसे क्षेत्रों में किया जाएगा।
:C-DAC ने कंप्यूटर सर्वर ‘‘रुद्र’’ और उच्‍च गति वाले इंटरकनेक्ट ‘‘त्रिनेत्र’’ को डिजाइन और विकसित किया है, जो सुपर कंप्यूटरों के लिए आवश्यक प्रमुख उप-असेंबलियां हैं।
परम गंगा की विशेषता-
1-CentOS7.x ऑपरेटिंग सिस्टम
2-क्षमता 1.66 पेटाफ्लॉप्स
3-उच्च प्रदर्शन कम्प्यूटिंग सिस्टम (HPC)
4-समानांतर फाइल सिस्टम
5-मेलनॉक्स (HDR) InfiniBand इंटरकनेक्ट नेटवर्क
नेशनल सुपर कंप्यूटिंग मिशन (NSM)-:इसकी स्थापना 2015 में भारत के लिए शक्तिशाली कम्प्यूटरों के विकास उद्देश्य से किया गया।
:इस मिशन को C-DAC यानी सेण्टर फॉर डेवलपमेंट ऑफ़ एडवांस कंप्यूटिंग और IISc यानी इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ़ साइंस बैंगलुरु द्वारा कार्यान्वित किया जा रहा है।
:इस मिशन के चार प्रमुख स्तम्भ है-बुनियादी ढांचा,अनुसंधान एवं विकास,मानव संसाधन विकास,और अनुप्रयोग।
:मिशन की 64 से अधिक पेटाफ्लॉप्स की संचयी परिकलन क्षमता के साथ 24 सुविधाओं का निर्माण और उनकी तैनाती करने की योजना है।


शेयर करें

Leave a Comment