भारत- यूएई सीईपीए (CEPA) समझौते का अनावरण

शेयर करें

भारत- यूएई सीईपीए समझौते

सन्दर्भ-केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग,उपभोक्ता मामले,खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण और कपड़ा मंत्री श्री पीयूष गोयल ने 28 मार्च 2022 को भारत और संयुक्त अरब अमीरात के बीच व्यापक आर्थिक भागीदारी समझौते (CEPA) के अनावरण की घोषणा की।
प्रमुख तथ्य-यह घोषणा इनकी संयुक्त अरब अमीरात (UAE) की अपनी यात्रा के दौरान की गई।
:इस लांच के साथ ही भारत और UAE CEPA का पाठ अब पब्लिक डोमेन में होगा।
:केंद्रीय मंत्री दुबई में 28 मार्च 2022 को आयोजित होने वाले “इन्वेस्टोपिया समिट” और 29 मार्च 2022 को “वर्ल्‍ड गवर्नमेंट समिट” में भाग लेने के लिए संयुक्त अरब अमीरात में हैं।
:भारत- यूएई सीईपीए पर 18 फरवरी 2022 को प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी और अबु धाबी के क्राउन प्रिंस महामहिम शेख मोहम्मद बिन जायद अल-नाहयान के बीच आयोजित भारत- यूएई वर्चुअल शिखर सम्मेलन के दौरान हस्ताक्षर किए गए थे।
:88 दिनों की रिकॉर्ड अवधि में संपन्न हुई वार्ता के बाद अब यह समझौता 1 मई 2022 को लागू होने की उम्मीद है।
क्या है विशेषताएं-भारत-:यूएई सीईपीए पिछले एक दशक में किसी भी देश के साथ भारत द्वारा हस्ताक्षरित पहला गहरा और पूर्ण रूप से मुक्त व्यापार समझौता है।
:यह एक व्यापक समझौता है जिसमें वस्‍तुओं का व्‍यापार,सेवाओं का व्‍यापार,मूल स्‍थान के नियम,व्‍यापार की तकनीकी बाधाएं (TBT),स्वच्छता एवं साइटोसैनिटरी (SPS) उपाय,दूरसंचार,आईपीआर,निवेश डिजिटल व्यापार,सरकारी खरीद तथा अन्य क्षेत्रों में सहयोग शामिल है।
:सीईपीए दोनों देशों के बीच व्यापार को प्रोत्साहित करने और उसे सुधारने के लिए एक संस्थागत तंत्र प्रदान करता है।
:भारत- यूएई व्यापक रणनीतिक भागीदारी 16-17 अगस्त 2015 को भारत के प्रधानमंत्री की संयुक्त अरब अमीरात की यात्रा के दौरान शुरू हुई थी जो हमारे बहुआयामी द्विपक्षीय संबंधों की बुनियाद है।


शेयर करें

Leave a Comment