भारत द्वारा सागर मिशन के तहत खाद्य सहायता

शेयर करें

मिशन सागर -INS KESARI

सन्दर्भ- भारत विशाल युद्धपोत आईएनएस केसरी ने मोजाम्बिक को 500 मीट्रिक टन खाद्य सामग्री के साथ,दो फ़ास्ट इंटरसेप्टर क्राफ्ट और आत्मरक्षा सैन्य उपकरण वितरित किये।
प्रमुख तथ्य-:मोजाम्बिक में चल रहे सूखे और महामारी की समवर्ती चुनौतियों से निपटने में समर्थन करने के लिए,आईएनएस केसरी द्वारा 500 मीट्रिक टन खाद्य सहायता भेज दी गई,जो 25 दिसंबर 2021 को मापुटो पोर्ट पर पंहुचा।
:भारत के द्वारा मिशन सागर की तैनाती विदेश मंत्रालय और भारत सरकार की अन्य एजेंसियों के साथ निकट समन्वय में की जा रही है।
:आईएनएस केसरी ने मालदीव, मॉरीशस, सेशेल्स, मेडागास्कर और कोमोरोस को मानवीय और चिकित्सा सहायता प्रदान करने के लिए मई-जून 2020 में इसी तरह के मिशन को किया था,जिसमें कई स्थानों पर नौसेना की चिकित्सा सहायता टीमों की तैनाती भी शामिल थी।
:नौसेना ने पिछले साल मई से सागर मिशन के तहत 15 मित्र देशों में जहाजों को तैनात किया है।
:ये तैनाती समुद्र में 215 दिनों तक चली और 3,000 मीट्रिक टन से अधिक खाद्य सहायता,300 मीट्रिक टन से अधिक तरल चिकित्सा ऑक्सीजन,900 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेट और 20 क्रायोजेनिक कंटेनरों की सहायता प्रदान की।


शेयर करें

Leave a Comment