भारत और उज्बेकिस्तान सेनाओं के बीच संयुक्त अभ्यास

शेयर करें

EX-DUSTLINK
संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास EX-DUSTLIK

सन्दर्भ-भारत और उज्बेकिस्तान सेनाओं के बीच संयुक्त प्रशिक्षण अभ्यास EX-DUSTLIK का उज्बेकिस्तान के यांगयारिक में आयोजन किया जा रहा है।
उद्देश्य है-दोनों सेनाओ के बीच समझ,सहयोग और पारस्परिक समन्वय को बढ़ाना।
प्रमुख तथ्य-इस अभ्यास के तीसरे संस्करण का आयोजन 22 से 31 मार्च 2022 तक किया जाएगा।
:भारतीय सेना से ग्रेनेडियर्स रेजिमेंट(अत्यंत सुशोभित बटालियन) का एक सैन्य दल उज्बेकिस्तान सैन्‍य दस्‍ते के साथ 22 मार्च 2022 को अभ्यास के लिए भेजा गया।

:इस बटालियन को स्वतंत्रता के लगभग सभी पहले और बाद के अभियानों में भाग लेने का अनूठा गौरव प्राप्त है।
:इसे 1965 के युद्ध में थिएटर सम्मान “राजस्थान”और 1971 के युद्ध में युद्ध सम्मान “JARPAL”अर्जित किया है।
:अभ्यास DUSTLIK का अंतिम संस्करण मार्च 2021 में रानीखेत (उत्तराखंड) में आयोजित किया गया था।
:यह संयुक्त अभ्यास अर्द्ध-शहरी इलाके में आतंकवाद विरोधी अभियानों पर केंद्रित होगा जो यूएन के जनादेश के अंतर्गत होगा।
:प्रशिक्षण कार्यक्रम मुख्य रूप से सामरिक स्तर के अभ्यासों को साझा करने और एक दूसरे की सर्वोत्तम प्रणालीयों को सीखने पर आधारित होगा।
:अभ्यास के दौरान दोनों सेनाएं संघर्ष के समय उत्पन्न स्थिति से निपटने के लिए अपनाई जाने वाली स्थित से निपटने हेतु अपनाई जाने वाली चुनौतियों का सामना करेंगी।


शेयर करें

Leave a Comment