प्रलय मिसाइल का सफलता पूर्वक परिक्षण किया गया

शेयर करें

सन्दर्भ-डीआरडीओ ने 22 दिसम्बर 2021 को ओड़िसा के तट पर डॉ एपीजे अब्दुल कलम द्वीप से स्वदेशी रूप से विकसित सतह से सतह पर मार करने वाली मिसाइल प्रलय का सफलता पूर्वक परिक्षण किया गया।
प्रमुख तथ्य-:मिसाइल अर्द्ध बैलिस्टिक प्रक्षेपवक्र का अनुसरण किया और नियंत्रण,मार्गदर्शन और मिशन एल्गोरिथ्म को मान्य करते हुए उच्च डिग्री सटीकता के साथ निर्दिष्ट लक्ष्य को भेदना में सक्षम है।
:सभी उप प्रणालियाँ भी बेहतर काम कर रही थी,डाउन रेंज जहाजों के साथ पूर्वी तट पर प्रभाव बिंदु के पास तैनात सभी :सेंसर,प्रक्षेपवक्र को ट्रैक करने के साथ सभी घटनाओं को कैप्चर भी करते है।
:मिसाइल ठोस प्रणोदक रॉकेट मोटर और कई नई तकनीकों द्वारा संचालित है।
:इसको मोबाइल लांचर से लॉंच किया जा सकता है।
:इसकी मारक क्षमता 150-500 किमी है।
:इस मिसाइल में मार्गदर्शन प्रणाली में अत्याधुनिक नेविगेशन प्रणाली और एकीकृत एविऑनिक्स शामिल है।
:यह मिसाइल उन्नत इंटरसेप्टर मिसाइलों को ध्वस्त करने में सक्षम है।
:यह हवा में एक निश्चित सीमा को कवर करने के बाद अपना रास्ता बदलने में सक्षम है।


शेयर करें

Leave a Comment