Mon. Dec 5th, 2022
शेयर करें

पांडुरंग खानखोजे की प्रतिमा का अनावरण
पांडुरंग खानखोजे की प्रतिमा का अनावरण
Photo@TIE

संदर्भ:

:स्पीकर ओम बिरला ने अपनी मैक्सिको यात्रा के दौरान स्वतंत्रता सेनानी और कृषि वैज्ञानिक पांडुरंग खानखोजे की एक प्रतिमा का अनावरण करेंगे।
:वर्तमान में 65वें राष्ट्रमंडल संसदीय सम्मेलन के लिए कनाडा में हैं,मेक्सिको जाएंगे जहां वह स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का भी अनावरण करेंगे।

पांडुरंग खानखोजे के बारे में:

:पांडुरंग खानखोजे (1883-1967) का जन्म वर्धा,महाराष्ट्र में हुआ,जो की स्वतंत्रता सेनानी और कृषिविद थे।
:उनके योगदान में खानखोजे 1914 में विदेशों में रहने वाले भारतीयों द्वारा स्थापित ग़दर पार्टी के संस्थापक सदस्यों में से एक थे, जो ज्यादातर पंजाब से संबंधित थे।
:वह मेक्सिको सिटी के पास चैपिंगो में नेशनल स्कूल ऑफ एग्रीकल्चर में प्रोफेसर थे।
:उन्होंने मकई (मक्का), गेहूं, दालों और रबर पर शोध किया, ठंढ और सूखा प्रतिरोधी किस्मों का विकास किया, और मैक्सिको में हरित क्रांति लाने के प्रयासों का वे हिस्सा थे।
:बाद में, अमेरिकी कृषि विज्ञानी डॉ. नॉर्मन बोरलॉग ने भारत में हरित क्रांति का जनक कहा, मैक्सिकन गेहूं की किस्म को पंजाब लाया।


शेयर करें

By gkvidya

Leave a Reply

Your email address will not be published.