नोबेल पुरस्कार विजेता डेसमंड टूटू का निधन

शेयर करें

डेसमंड टूटू का निधन

सन्दर्भ-दक्षिण अफ्रीका के मुख्य धर्माध्यक्ष और रंगभेद विरोधी आंदोलन के प्रमुख चेहरे डेसमंड टूटू का 26 दिसंबर 2021 को निधन हो गया है।
प्रमुख तथ्य- :उनका निधन 90 वर्ष की आयु में दक्षिण अफ्रीका के केप टाउन शहर में हुआ।
:उनका जन्म 7 अक्टूबर 1931 को दक्षिण अफ्रीका के क्लैर्कस्डोर्फ नामक स्थान पर हुआ था।
:वे दक्षिण अफ्रीका में नस्लीय अलगाव की नीति को समाप्त करने वाले आंदोलन के प्रेरक व्यक्तियों में से एक थे।
:वह 1975 में जोहानसबर्ग स्थित सेंट मैरी कैथेड्रल चर्च के डीन बनने वाले पहले और श्वेत दक्षिण अफ्रीकी भी थे।
:1980 में उन्होंने रंगभेद को लेकर होने वाले अन्याय की ओर ध्यान आकर्षित करने में अतुलनीय भूमिका निभाई थी।
:1984 में नस्लीय समानता संघर्ष में उनके योगदान के लिए उन्हें शांति का नोबेल पुरस्कार प्रदान किया गया था।
:1986 में उनको केपटाउन के पहले और अश्वेत मुख्य धर्माध्यक्ष के रूप में चुना गया था।
उनको कुछ अन्य पुरस्कार भी मिले है-
:गांधी शांति पुरस्कार,2005
:स्वतंत्रता का अमेरिकी राष्ट्रपति पदक,2009
:टेंपलटन पुरस्कार,2013


शेयर करें

Leave a Comment