नीति आयोग और यूएसएआईडी (यूएसएड) ने समझौता किया

शेयर करें

NITI AYOG
नीति आयोग और यूएसएआईडी समझौता

सन्दर्भ-नीति आयोग,अटल इनोवेशन मिशन (एआईएम),और अमेरिकी एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट (यूएसएड) ने स्वास्थ्य देखभाल के अभिनव वितरण के लिए बाजारों और संसाधनों तक सतत पहुंच (समृद्ध) पहल के अंतर्गत एक नई साझेदारी की घोषणा की है।
उद्देश्य-यह दूसरी श्रेणी और तीसरी श्रेणी के शहरों और ग्रामीण तथा जनजातीय क्षेत्रों में नाज़ुक आबादी के लिए सस्ती और गुणवत्तापूर्ण स्वास्थ्य देखभाल की पहुंच में सुधार करेगी।
प्रमुख तथ्य-:यह नई साझेदारी,नाज़ुक आबादी तक पहुंचने के लिए समृद्ध के प्रयासों को बढ़ाएगी,नवाचार और उद्यमिता में अटल इनोवेशन मिशन की विशेषज्ञता का लाभ उठाएगी।
:अटल इनोवेशन मिशन और समृद्ध छोटे और मध्यम स्वास्थ्य उद्यमों में व्यावसायिक निवेश के लिए बाधाओं को दूर करने के लिए परोपकारी पूंजी,और सार्वजनिक क्षेत्र के संसाधनों का लाभ उठाएंगे और स्वास्थ्य सेवा समाधानों में निवेश करेंगे।
:अटल इनोवेशन मिशन और समृद्ध हेल्थकेयर ब्लेंडेड फाइनेंस फैसिलिटी ने संयुक्त भागीदारी और प्रस्तावों को आमंत्रित करने की घोषणा की है।
:यह समझौता कोविड-19 की वर्तमान में जारी तीसरी लहर के लिए एक प्रभावी सहायता उपलब्ध कराने और भविष्य में संक्रामक रोग के प्रकोप और स्वास्थ्य आपात स्थिति के लिए स्वास्थ्य प्रणाली की तैयारी का निर्माण करने के लिए सामान्य लक्ष्य के साथ स्वास्थ्य सेवा परिदृश्य में नवाचारों पर ध्यान केंद्रित करेगा।
:स्वास्थ्य सेवा से अधिक महत्वपूर्ण कोई क्षेत्र नहीं है,जिसमें सुधार की त्वरित गति और बढ़े हुए निवेश की आवश्यकता है।
:यह समझौता अटल इनोवेशन मिशन,नीति आयोग और यूएसएआईडी की साझा प्रतिबद्धता को आगे बढ़ाएगा ताकि भारत की सबसे नाज़ुक आबादी के लिए स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार की दिशा में अधिक निवेश प्राप्त करने के लिए अभिनव वित्तपोषण समाधानों का लाभ उठाया जा सके।
:एक सूचनात्मक और सम्मोहक श्वेत पत्र जारी किया गया,जिसका शीर्षक था, ‘ब्लेंडेड फाइनेंस के माध्यम से भारत में हेल्थकेयर को फिर से तैयार करना”

अधिक जानकारी और प्रस्तावों को प्राप्त करने के लिए—-  क्लिक करें 


शेयर करें

Leave a Comment