डेली करेंट अफेयर्स 17 अक्टूबर 2021

शेयर करें

1-अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (IMF) की वार्षिक रिपोर्ट जारी
मुख्य तथ्य1:15 अक्टूबर को जारी अपनी रिपोर्ट में कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था धीरे धीरे ठीक हो रही है।
2:IMF ने मुद्रास्फीति पर ध्यान देने और मौद्रिक नीति समर्थन में धीमी कमी को ठीक करने की सलाह दी है।
3: IMF मैं 2021-22 के लिए भारत की वृद्धि दर 9.5 होने को बताया है,साथ ही उपभोक्ता मूल्य आधारित मुद्रास्फीति 5.6% का अनुमान लगाया है 2022 में इसके 8.5% का अनुमान भी लगाया है।
4:अगस्त में महंगाई दर घटकर 5.38 सितंबर में 4.3 हो गई थी।
5:अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष-यह 189 सदस्य देशों वाला एक संगठन है जिसका मुख्यालय वाशिंगटन,अमेरिका में है तथा इसकी प्रमुख (प्रबंध निदेशक) अर्थशास्त्री क्रिस्टालिना जार्वीवा(बुल्गारिया की) हैं।
6:इसकी अभिकल्पना जुलाई 1944 में संयुक्त राष्ट्र के ब्रेटन वुड्स सम्मेलन में की गई थी तथा स्थापना 27 दिसंबर 1945 को हुआ।

2-अन्तर्रष्ट्रीय ग्रामीण महिला दिवस –
प्रमुख तथ्य-1:हर साल 15 अगस्त को मनाया जाता हैजिसे संयुक्त राष्ट्र द्वारा 18 दिसंबर 2007 शुरू किया गया था।
2: इस साल का विषय थीम/विषय – रूरल वीमेन कल्टीवेटिंग गुड फूड फॉर ऑल(सभी के लिए अच्छे भोजन की खेती करने वाली ग्रामीण महिलाएं)।
3:यह दिन लैंगिक समानता को दर्शाता है तथा ग्रामीण महिलाओं को सशक्त बनाने में सहायता करता है।
4:इसके माध्यम से ग्रामीण महिलाओं द्वारा कृषि और ग्रामीण विकास को बढ़ाने,ग्रामीण गरीबी उन्मूलन और खाद्य सुरक्षा में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने के लिए सम्मानित किया जाता है,तथा इन विषयों में महिलाओं के महत्व के प्रति लोगों को जागरूक करना
5:UN की रिपोर्ट के अनुसार 40% महिलाएं विकासशील देशों में कुल कृषि श्रम में भागीदारी देती है,अमेरिकी देशों 20% का जबकि एशिया और अफ्रीका में इनकी 50% की हिस्सेदारी है।
6: रिपोर्ट ने कहा कि अगर महिलाओं को समान अवसर दिया जाए तो 2.5 से 4% तक कृषि उत्पादन बढ़ाया जा सकता है।
7:संयुक्त राष्ट्र का कहना है कि ग्रामीण महिलाएं देश की खाद्य प्रणाली का एक अभिन्न अंग हैं जिसका मतलब है कि समुदाय के पोषण पर उनका सीधा प्रभाव पड़ता है.फिर भी उनके इस अमूल्य योगदान को,उनके अपने घर और समाज में असमानता,भेदभाव और हिंसा जैसी चुनौतियों का सामना करती रहती है।
8:सरकार महिलाओं के लिए कई तरह की योजनाएं चला रही है ताकि स्टार को उच्च बनाया जा सके जैसे-प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना,सुमन योजना,महिला शक्ति केंद्र योजना इत्यादि।

3:रक्षा मंत्रालय ने 7 नई रक्षा कंपनियों को राष्ट्र को समर्पित किया — 
प्रमुख तथ्य-1:
रक्षा मंत्रालय के तहत आयुध निर्माणी बोर्ड(OFB) द्वारा 100 प्रतिशत सरकारी स्वामित्व वाली ये सात कंपनिया है –
MIL—————म्यूनिशन्स इंडिया लिमिटेड,
GIL ————-ग्लाइडर्स इंडिया लिमिटेड
AVNL ——–अर्मौरेड व्हीकल्स निगम लिमिटेड
AWE India –एडवांस्ड वीपन्स एंड इक्विपमेंट इंडिया लिमिटेड
TCL-——— ट्रूप कम्फर्ट्स लिमिटेड
IOL-———इंडिया ऑप्टेल लिमिटेड
YIL ———-यंत्र इंडिया लिमिटेड
2:इन सभी कंपनियों ने 1 अक्टूबर 2021 से संचालन शुरू कर दिया है
3:इसका मुख्य उद्देश्य रक्षा क्षेत्र में भारत के आत्मनिर्भरता तो मजबूती देना।

4. त्रिशूल और गाइड नाम दो लम्बी दुरी की माल गाड़ी का संचालन शुरू
प्रमुख तथ्य -1:रेलवे ने पहली बार दक्षिण मध्य रेलवे (SCR) में इसे शुरू किया
2:सामान्य मालगाड़ी से कई गुना लंबी त्रिशूल में तीन माल गाड़ियां यानी 177 बैगन जिसमें विजयवाड़ा मंडल के कोंडापल्ली स्टेशन से खुर्दा मंडल पूर्वी तट रेलवे के लिए रवाना किया गया,वहीँ गरुड़ को गुंतकल डिविजन के रायचूर से सिकंदराबाद डिविजन के मनुगुरू के लिए शुरू किया गया।
3:यह खाली वैगन है कोयला ढोने के लिए।
4:SCR 18 जोन में से एक प्रमुख जोन है।
5:दक्षिण मध्य रेलवे ने 7 अक्टूबर को कोंडापल्ली स्टेशन से त्रिशूल को तथा 8अक्टूबर को रायचूर से गरुड़ को रवाना किया गया था.

5. प्रधानमंत्री ने लांच किया अवसंरचना मास्टर प्लान पीएम गति शक्ति
प्रमुख तथ्य-1:13 अक्टूबर को लांच किया गया था तथा घोषणा स्वतंत्रता दिवस पर – यह एक ही मंच पर पर 16 मंत्रालयों और सात प्रमुख बुनियादी ढांचा क्षेत्रों को एक मंच पर लाएगा जिससे दोहराव से बचाव होगा, इससे गति मिलेगी तथा मंत्रालयों के बीच समन्वय बढ़ेगा इसके 3 लक्ष्य होंगे।
2: माल और लोगों की आसान आवाज की सुविधा के लिए निर्धारित मल्टीमॉडल कनेक्टिविटी.
3: बेहतर प्राथमिकता संसाधनों का उचित प्रयोग समय पर क्षमता का निर्माण।
4:.असंबंध योजना मानवीय करण और मंजूरी का समाधान।
5:उद्देश्य-1: राष्ट्रीय असंरचना पाइपलाइन कार्यक्रम के लिए एक रूपरेखा होगा।
2:उत्पादों को रसद लागत कटौती के साथ आपूर्ति श्रृंखला सुधारना।
3:भारतीय निर्माताओं को वैश्विक प्रतिस्पर्धा बनाना।
4:इसके अलावा 100लाख से अधिक की योजना युवाओं में रोजगार।

6: करुप्पुर कलमकारी पेंटिंग और कल्लाकुरिचि लकड़ी की नक्काशी को GI टैग दिया गया –
प्रमुख तथ्य-1:इसे तमिलनाडु हस्तशिल्प विकास निगम पूमपुहर द्वारा आवेदन दायर करने के बाद मिला है
2:करुप्पुर कलमकारी पेंटिंग पारंपरिक डाई पेंटेड अलंकारिक और पैटर्न वाले कपड़े हैं वे छत के कपड़े,छाता कवर,रथ कवर इत्यादि होते हैं, मोर,हंस,फूल और देवताओं की छवियों का रूपांकन होता है।
3:कल्लाकुरिचि लकड़ी की नक्काशी ताड़ के तने,खजूर के पेड़,बांस की छड़ी से बने ब्रश और नारियल के पेड़ के तनो का उपयोग करके की जाती है।
4:यह नक्काशी डिजाइन और गहनो के लिए की जाती है मदुरई क्षेत्र में।
GI टैग (भौगोलिक संकेतक) क्या है
इसका उपयोग एक निश्चित भौगोलिक क्षेत्र में उत्पादित होने वाले उत्पादों की पहचान के आधार पर दिया जाता है है।यह उत्पाद के लिए एक प्रतीक चिन्ह के समान होता है जो उस उत्पाद की विशिष्ट भौगोलिक उत्पत्ति,विशेष गुणवत्ता को बताता है,जिसकी वैधता 10 साल की अवधि के लिए होती।
यह टैग भारत में भौगोलिक संकेतक (पंजीकरण और संरक्षण) अधिनियम, 1999 द्वारा किया जाता है जो 15 सितंबर, 2003 से लागू हुआ था।

 

 


शेयर करें

Leave a Comment