टोंगा ज्वालामुखी विस्फोट के झटके चेन्नई में दर्ज

शेयर करें

टोंगा ज्वालामुखी विस्फोट के झटके चेन्नई में दर्ज

सन्दर्भ-प्रशांत महासागर में स्थित टोंगा ज्वालामुखी में विस्फोट से उत्पन्न झटको(शॉकवेव) को चेन्नई में भी महसूस किया गया।
प्रमुख तथ्य-प्रशांत महासागर के टोंगा देश के पास बीते शनिवार को समुद्र के नीचे एक तीव्र ज्वालामुखी विस्फोट हुआ था।
:इन झटकों (शॉकवेव) को विश्व के कई देशों में महसूस किए गया।
:इन झटकों के कारण चेन्नई में वायुमंडलीय दाब एकाएक लगभग दो हैक्टोपास्कल(hPa) बढ़ गया।
:टोंगा की राजधानी “नुकुआलोफा” राख और धूल से ढँक गयी थी।
:विस्फोट से उत्पन्न राख,गैस और भाप करीब 20 किलोमीटर ऊपर उठ गया था।
:जबकि चेन्नई इस ज्वालामुखी विस्फोट वाले स्थान से लगभग 1200 किलोमीटर दूर स्थित है।
:प्रशांत महासागर में स्थित इस ज्वालामुखी का नाम “हूँगा-टोंगा-हंगा-हापाई” है।
:इसे ऐतिहासिक रूप से ज्वालामुखी विस्फोट में सबसे बड़ा विस्फोट माना जा रहा है,क्योकि इसका रेंज 260 किमी(161.5 मील)था।
:जिससे महासागर के तट कई देशों में सुनामी जैसी लहरे पैदा हुई।
:टोंगा की आबादी की संख्या 105000 लोग रहते है।
:टोंगा में दो लघु द्वीपीय इलाकों “मैंगो” और “फोनोई” में अभी तक कोई आधिकारिक संपर्क नहीं हो पाया है।
:टोंगा सरकार ने अपने पड़ोसी देशों ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड से मदद मांगी है,साथ ही “हाआपाई द्वीप समूह” में राष्ट्रीय समुद्री बल तैनात किया है।


शेयर करें

Leave a Comment