“झरोखा” एक अखिल भारतीय उत्सव का आयोजन होगा

शेयर करें

JHAROKHA UTSAV
झरोखा” अखिल भारतीय उत्सव

सन्दर्भ-संस्कृति मंत्रालय और वस्त्र मंत्रालय द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव के हिस्से के रूप में “झरोखा – भारतीय हस्तशिल्प / हथकरघा,कला और संस्कृति का संग्रह” का आयोजन कर रहे हैं।
प्रमुख तथ्य-इस अखिल भारतीय उत्सव को 13 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के 16 स्थानों पर आयोजन किया जाएगा।
:झरोखा एक पारंपरिक भारतीय हस्तशिल्प,हथकरघा और कला एवं संस्कृति का उत्सव है।
:इस उत्सव के तहत पहला कार्यक्रम मध्य प्रदेश के भोपाल में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर 8 मार्च, 2022 से रानी कमलापति रेलवे स्टेशन पर आयोजित किया गया।
:पहला कार्यक्रम नारीत्व और कला,शिल्प एवं संस्कृति के क्षेत्र में महिलाओं के योगदान के उत्सव को समर्पित है।
:कार्यक्रम के सभी स्टालों को महिला कारीगरों द्वारा बनाया गया है जो इसे खास बना देता है।
:इस कार्यक्रम का उद्घाटन उन महिलाओं के द्वारा किया जाएगा जो समाज में प्रेरणास्रोत रहीं है,यह महिला सशक्तिकरण का प्रमुख उदहारण है।
झरोखा के कार्यक्रम –
1-देश भर के हस्तशिल्प और हथकरघा उत्पादों को प्रदर्शित किया जाएगा।
2-प्रत्येक स्थान पर स्थानीय कला,संस्कृति और त्योहारों पर केंद्रित एक साहित्यिक कोना स्थापित किया जाएगा।
3-स्थानीय भारतीय व्यंजनों का उत्सव मनाने वाले फूड स्टॉल भी लगाए जाएंगे।
4-मुख्य आकर्षण सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे जो 8 दिनों तक चलेगा और इसमें स्थानीय टीमों और कलाकारों द्वारा लोक नृत्य और गायन प्रदर्शन शामिल होंगे।
5-एक भारत श्रेष्ठ भारत (EBSB) के लिए एक समर्पित कोना भी स्थापित किया जाएगा जिसमे मणिपुर और नगालैंड की संस्कृति तथा कला को शामिल किया जाएगा।


शेयर करें

Leave a Comment