कृष्णा जल विवाद की सुनवाई से दो जजों के नाम की वापसी

शेयर करें

कृष्णा जल विवाद की सुनवाई से दो जजों के नाम की वापसी

सन्दर्भ-सुप्रीम कोर्ट के दो न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ और ए एस बोपन्ना आज कृष्णा नदी जल विवाद की सुनवाई से अलग हो गये है।
प्रमुख तथ्य-:कृष्णा नदी विवाद पडोसी राज्यों तेलंगाना,आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के बीच पानी के आवंटन पर सहमति न बन पाने से सम्बंधित है।
:न्यायाधीश डी वाई चंद्रचूड़ महाराष्ट्र से तथा न्यायाधीश ए एस बोपन्ना कर्नाटक से सम्बन्ध रखते है,ऐसे में विवादित राज्यों से सम्बन्ध रखने से इस विवाद से अलग होना उचित होगा।
:इससे पहले भी न्यायधीशों ने विवादित राज्यों से आने के कारण ऐसे मामलों से अलग कर लिया था।
:पिछले वर्ष मुख्य न्यायाधीश एन वी रमण ने भी अविभाजित आंध्र प्रदेश से संबद्ध रखने के कारण इस विवाद की सुनवाई से अलग कर लिया था।
कृष्णा नदी जल विवाद-कृष्णा नदी एक विशाल बेसिन का निर्माण करती है जिसके अंतर्गत राज्यों महाराष्ट्र,तेलंगाना,आंध्र प्रदेश,और कर्नाटका के कुल क्षेत्रफल का 33% भाग शामिल है।
:इस विवाद का मुख्य कारण राज्यों के बीच जल के बंटवारे को लेकर है जो दशकों से चली आ रही है।
:इस विवाद शुरुआत पूर्ववर्ती हैदराबाद एवं मैसूर राज्यों के साथ हुई थी बाद में यह विवाद महाराष्ट्र,कर्नाटक और आंध्र प्रदेश के बीच भी चलता रहा।
:2014 में तेलंगाना के अस्तित्व में आने के बाद यह भी इस विवाद में शामिल हो गया।


शेयर करें

Leave a Comment