आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन

शेयर करें

AYUSHMAN BHARAT DIGITAL MISSION
आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन

सन्दर्भ-केंद्र सरकार ने अपने नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन का नाम बदलकर आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन कर दिया था जिसे आरोग्य सेतु ऐप के साथ एकीकृत किया गया है,जिससे उपयोगकर्ता ऐप से 14-अंकीय अद्वितीय आयुष्मान भारत स्वास्थ्य खाता संख्या बना सकते हैं।
उद्देश्य-सभी नागरिकों तक डिजिटल स्वास्थ्य आईडी उपलब्ध कराना।
प्रमुख तथ्य-“15 अगस्त 2020 को नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन योजना को शुरू किया गया था।
:यह योजना,आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत आएगी।
:यह एक डिजिटल स्वास्थ्य पारिस्थितिकी तंत्र है जिसके तहत प्रत्येक भारतीय नागरिक के पास अब अद्वितीय स्वास्थ्य आईडी,डॉक्टरों और स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए पहचानकर्ताओं के साथ डिजीटल स्वास्थ्य रिकॉर्ड शामिल होंगे।
:प्रत्येक भारतीय को एक हेल्थ आईडी कार्ड मिलेगा जिसमें नुस्खे,उपचार,नैदानिक रिपोर्ट और डिस्चार्ज सार सहित व्यक्ति के सभी चिकित्सा विवरण संग्रहीत होंगे।
:राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण को देश में मिशन के डिजाइन,निर्माण,रोल-आउट और लागू करने का अधिकार दिया गया है।
:स्वास्थ्य आईडी, डिजीडॉक्टर और स्वास्थ्य सुविधा रजिस्ट्री का स्वामित्व, संचालन और रखरखाव भारत सरकार द्वारा किया जाएगा।
:निजी हितधारकों के पास बाजार के लिए अपने उत्पादों को एकीकृत करने और बनाने का समान अवसर होगा,हालाँकि,मुख्य गतिविधियाँ और सत्यापन सरकार के पास ही रहेगा।
:नागरिक परामर्श के लिए अस्पताल के दौरे के समय अपने डॉक्टरों और स्वास्थ्य प्रदाताओं को इस डेटा तक एक बार पहुंच प्रदान करने में सक्षम होंगे।


शेयर करें

Leave a Comment