आज से “साहित्योत्सव” साहित्य उत्सव का आयोजन

शेयर करें

SAHITYTOTSAV 2022
आज से ‘साहित्योत्सव’ साहित्य उत्सव

सन्दर्भ-भारत का सबसे समावेशी साहित्य उत्सव “साहित्‍योत्‍सव” संस्कृति राज्य मंत्री श्री अर्जुन राम मेघवाल द्वारा उद्घाटन के साथ आज से नई दिल्ली में आयोजित किया जाएगा।
प्रमुख तथ्य-साहित्‍योत्‍सव का आयोजन 10 से 15 मार्च 2022 तक किया जाएगा।
:यह महोत्सव आज़ादी के अमृत महोत्सव के एक हिस्से के रूप में किया जा रहा है।
:कार्यक्रम का विषय स्वतंत्रता या स्वतंत्रता आंदोलन से जुड़ा होगा।
:महोत्सव में एक विशेष कोना होगा जो भारत के स्‍वाधीनता आंदोलन से जुडी पुस्तकों और आजादी का अमृत महोत्सव से संबंधित अन्य सामग्रियों को प्रदर्शित करने के लिए बनाया गया है।
मुख्य कार्यक्रम है-
1-अकादमी द्वारा मान्यता प्राप्त 24 भारतीय भाषाओं का प्रतिनिधित्व करने वाले 26 युवा लेखक 10 मार्च 2022 को आयोजित ‘‘द राइज ऑफ यंग इंडिया’’ कार्यक्रम में भाग लेंगे,जिसका उद्घाटन प्रख्यात असमिया लेखक येशे दोरजी थोंगची करेंगे।
2-11 मार्च 2022 को ‘‘आदिवासी लेखकों की बैठक’’ आयोजित की जाएगी जिसका उद्घाटन प्रख्यात बालती कवि श्री अखोन असगर अली बशारत द्वारा किया जाएगा।
3-11 मार्च 2022 को ही प्रतिष्ठित साहित्य अकादमी पुरस्कार 24 पुरस्कार विजेताओं को प्रदान किए जाएंगे।
4-12 मार्च 2022 को सभी 24 पुरस्कार विजेता ‘‘राइटर्स मीट’’ में भाग लेंगे,जिसमें उस समय की रचनात्‍मक प्रक्रिया को साझा करेंगे जब उन्‍होंने पुरस्‍कार प्राप्‍त शीर्षकों को लिखा था।
5-12 मार्च 2022 को ही ‘‘1947 से भारत में नाटकों का विकास’’ विषय पर रंगमंच की प्रख्‍यात हस्‍ती श्री भानु भारती एक संगोष्ठी का उद्घाटन करेंगे।
6-13 मार्च 2022 से 3 दिवसीय (13-15 मार्च) अकादमी सभागार में “भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन पर साहित्य का प्रभाव” विषय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन होगा,जिसका उद्घाटन हिंदी के प्रख्यात लेखक और साहित्य अकादमी के फेलो डॉ. विश्वनाथ प्रसाद तिवारी करेंगे।
7-13 मार्च 2022 को ही ‘फेंटेसी एंड साइंस फिक्‍शन इन इंडियन लैंग्‍वेजेस सि‍न्‍स 1947’’ विषय पर एक संगोष्‍ठी का उद्घाटन प्रसिद्ध लेखक श्री देवेंद्र मेवाड़ी करेंगे।
8-14 मार्च 2022 को ‘‘मीडिया और साहित्य’’ पर एक चर्चा का आयोजन किया जाएगा जिसका उद्घाटन आकाशवाणी के महानिदेशक श्री वेणुधर रेड्डी करेंगे।
9-इसी दिन ‘‘ट्रांसजेंडर कवि सम्मेलन’’का आयोजन होगा जिसमे मुख्य अतिथि प्रख्यात गुजरती लेखक होंगे डॉ विनोद जोशी।
10-15 मार्च 2022 को ‘‘पूर्वोत्तारी: पूर्वोत्‍तर और पूर्वोत्तर के लेखकों की बैठक का आयोजन होगा जिसक उद्घाटन प्रख्यात हिंदी कवि डॉ. अरुण कमल करेंगे।
11-इसी दिन “साहित्य और महिला सशक्तिकरण” पर संगोष्ठी का आयोजन होगा जिसका उद्घाटन करेंगी प्रख्यात अंग्रेजी लेखिका सुश्री ममंग दाई

विस्तृत जानकारी के लिए क्लिक करें


शेयर करें

Leave a Comment